निबंध

बाढ़ राहत कार्य की अपर्याप्त व्यवस्था की ओर ध्यान आकृष्ट करने हेतु पत्र

दोस्तों आज इस पोस्ट में आपको एक और उदाहरण मिलेगा पत्र लेखन का | ये सामग्री हमे आप ही में से एक विद्यार्थी द्वारा भेजी गयी है | अगर ये पोस्ट आपके काम आती है तो जरूर नीचे कमेंट करके अपने विचार प्रकट करें |

 

बाढ़ राहत कार्य हेतु पत्र

 

प्रश्न – बाढ़ राहत कार्य की अपर्याप्त व्यवस्था की ओर ध्यान आकृष्ट करने हेतु पत्र।

 

यह पत्र विकास कार्निवाल निवासी पिथौरागढ़ उत्तराखंड से   ‘ हिंदी विभाग ‘  के लिए लिखा है। आप भी अपनी मौलिक रचना हिंदी विभाग को सम्प्रेषित कर सकते है।

 

सेवा में

माननीय मुख्यमंत्री

भैरो सिंह मार्ग , पिथौरागढ़

उत्तराखंड

 

विषय : –  बाढ़ राहत कार्य की अपर्याप्त व्यवस्था की ओर ध्यान आकृष्ट करने हेतु पत्र।

 

महोदय

जैसा कि आप जानते हैं कि उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में इस बरसात कितनी भयंकर व भयावह बाढ़ की स्थिति बनी हुई है , भूस्खलन और बाढ़ से यहां के निवासियों का जीना दूभर हो गया है। तीन दिन पहले आई अचानक इस बाढ़ में लोग अपने घर से भी निकल नहीं पाए हैं और वही फंसे हुए हैं।

प्रशासन अभी बाढ़ पीड़ितों के लिए पर्याप्त व्यवस्था नहीं कर पाई है।स्थानीय प्रशासन के पास इतनी बड़ी संख्या में लोगों को राहत पहुंचाना एक चुनौती बनी हुई है। स्थानीय प्रशासन अपर्याप्त साधन / संसाधन न होने के कारण राहत कार्य ठीक प्रकार से नहीं कर प् रही है।  इस अचानक आई बाढ़ में लोग अपने घरों की छत पर कई दिन गुजारने पर मजबूर हैं। खाने-पीने अथवा शौच आदि के कारण महामारी फैलने की संभावना बानी हुई है।

अतः  मैं मुख्यमंत्री से आग्रह करना चाहता हूं कि इस समस्या की ओर जल्द से जल्द ध्यान देकर बाढ़ पीड़ितों के लिए पर्याप्त व्यवस्था करें और बाढ़ पीड़ितों के लिए यथासंभव मदद करें। आपकी अति कृपा होगी।

धन्यवाद

 

प्रार्थी

विकास कार्निवाल

निवासी – पिथौरागढ़ (उत्तराखंड)

 

पत्र लेखन – बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए पुलिस आयुक्त को पत्र

संपादक को पत्र

हिंदी का पेपर कैसे हल करें class 11

कक्षा दसवीं बोर्ड्स प्रश्न पत्र हल सहित | How to solve class 10 boards hindi paper

इतिहास प्रश्न पत्र हल सहित कक्षा 11

 

कृपया अपने सुझावों को लिखिए | हम आपके मार्गदर्शन के अभिलाषी है 

facebook page hindi vibhag

YouTUBE

Google+

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *