Abhivyakti aur madhyam for class 11 and 12 अभिव्यक्ति और माध्यम

अभिव्यक्ति और माध्यम – यह पुस्तक कक्षा ग्यारहवीं अथवा 12वीं में सीबीएसई की ओर से लगाया गया है। छात्रों को हिंदी विषय में इस पुस्तक से ही समस्या आती है। अतः हमारी पुरजोर कोशिश रहेगी की अभिव्यक्ति माध्यम में पूछे जाने वाले सभी प्रश्नों को हम यहां समाहित करें। Today you will learn abhivyakti aur madhyam for class 11 and 12 with questions and answers.

 

अभिव्यक्ति और माध्यम कक्षा बारहवीं – Abhivyakti aur madhyam for class 12

 

प्रश्न – जनसंचार के कौन-कौन से लोकप्रिय माध्यम वर्तमान में प्रचलित हैं ?

उत्तर – टेलीविजन एवं इंटरनेट लोकप्रिय माध्यम वर्तमान समय में उपलब्ध है।

 

प्रश्न – समाचार लेखन के छ: ककार कौन कौन से हैं?

उत्तर – समाचार लेखन के छ: प्रकार क्या , कौन , कहां , कब , क्यों , कैसे, है।

 

प्रश्न – भारत का पहला छापाखाना कब और कहां खुला ?

उत्तर – भारत में सर्वप्रथम गोवा में सन 1556 में पहला छापाखाना खुला। प्रारंभ में इसका प्रयोग मिशनरियों ने धर्म प्रचार की पुस्तके छापने के लिए किया था आज मुद्रण कंप्यूटर की सहायता से होता है।

 

प्रश्न  – हिंदी में प्रकाशित होने वाले मुख्य समाचार पत्रों के नाम लिखिए ?

उत्तर – नवभारत टाइम्स ,  हिंदुस्तान ,  दैनिक जागरण ,  अमर उजाला , दैनिक भास्कर आदि

 

प्रश्न – उल्टा पिरामिड शैली किसे कहते हैं ?

उत्तर – समाचार लेखक की लोकप्रिय शैली को उल्टा पिरामिड शैली हैं। इसमें सबसे महत्वपूर्ण तथ्य को सबसे पहले लिखा जाता है , उसके बाद घटते हुए क्रम में अन्य तथ्य को लिखा जाता है। जिस प्रकार नाटक में क्लाइमैक्स अंत में आता है , यहां ठीक उसके विपरीत होता है। समाचार लेखन में क्लाइमैक्स पहले ही आता है , उसके बाद विवरण शैली में समाचार लिखा जाता है।

 

प्रश्न – नाटक के तत्व कौन कौन से हैं

उत्तर – नाटक के तत्व – समय का बंधन , शब्द , नाटकीयता , संवाद , द्वंद्व , चरित्र योजना , भाषा शिल्प , ध्वनि योजना , प्रकाश योजना , वेशभूषा , रंगमंचीयता  आदि है( विस्तार से जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें )

 

प्रश्न – जनसंचार का माध्यम कौन-कौन सा है ?

उत्तर – जनसंचार के प्रमुख माध्यम मुद्रित , प्रिंट , टेलीविजन , रेडियो एवं इंटरनेट है।

 

प्रश्न – जनसंचार का सबसे प्राचीन माध्यम कौन सा है?

उत्तर – जनसंचार का सबसे प्राचीन माध्यम प्रिंट अर्थात मुद्रित है , जिसके अंतर्गत समाचार पत्र , पत्रिकाएं , किताबें आदि आती है।

 

प्रश्न – रेडियो जनसंचार का कैसा माध्यम है ?

उत्तर – रेडियो जनसंचार का श्रव्य माध्यम है। जिसमें शब्द , ध्वनि , स्वर आदि प्रमुख होते हैं। इसमें ध्वनि के माध्यम से ही समाचार , कहानी अथवा संपूर्ण वार्तालाप होती है , यह तरंग के माध्यम से कार्य करता है।

 

प्रश्नउल्टा पिरामिड शैली से आप क्या समझते हैं ?

उत्तर – उल्टा पिरामिड शैली समाचार की एक प्रमुख शैली है। इस शैली में ही समाचार लिखा जाता है। उल्टा पिरामिड से ही स्पष्ट होता है कि इसमें घटते हुए क्रम में तथ्यों अथवा सूचनाओं को दिया अथवा बताया जाता है। जिस प्रकार कहानी में क्लाइमेट अंत में आता है , समाचार शैली में क्लाइमेट पहले ही प्रकट किया जाता है , उसके उपरांत पूरी घटनाओं को बताया जाता है। इसमें तीन भाग होते हैं –

इंट्रो – यह समाचार का मुख्य भाग होता है , जिसमें संपूर्ण जानकारी निहित होती है।

बॉडी – घटते क्रम में सभी खबर के तथ्य मौजूद होते हैं , अर्थात इसमें इंट्रो में दिए गए संपूर्ण जानकारी से कम जानकारी होती है।

समापन – इस बिंदु में संपूर्ण जानकारी नहीं होती परंतु ऊपर दिए गए दोनों बिंदुओं में समाचार के सभी तथ्य मौजूद होते हैं। इसलिए इस बिंदु में सूचना को छोटा अथवा कम किया जा सकता है।

 

प्रश्न – टेलीविजन जनसंचार का कैसा माध्यम है ?

उत्तर – टेलीविजन जनसंचार का दृश्य एवं श्रव्य माध्यम है। टेलीविजन में आवाज के साथ दृश्य को भी देखा जा सकता है।

 

प्रश्न – इंटरनेट पत्रकारिता क्या है ?

उत्तर – समाचार पत्रों का इंटरनेट पर प्रकाशन अथवा खबरों का आदान-प्रदान ही इंटरनेट पत्रकारिता कहलाता है।

 

प्रश्न – इंटरनेट पत्रकारिता का आरंभ कब हुआ ?

उत्तर – इंटरनेट पत्रकारिता का आरंभ 1993 से माना जाता है। 1993 को प्रथम युग माना जाता है , जबकि 2003 को दूसरा युग और वर्तमान समय को तीसरा युग इंटरनेट की पत्रकारिता के क्षेत्र में माना जाता है।

 

प्रश्न – जनसंचार के माध्यमों की भाषा किस प्रकार की होनी चाहिए ?

उत्तर – जनसंचार के माध्यमों की भाषा सरल जन सामान्य और छोटे-छोटे वाक्य में होने चाहिए जिससे पाठक अथवा श्रोता की रुचि बनी रहे।

 

Feature lekhan in hindi for class 11 and 12

विज्ञापन लेखन कैसे लिखें

मीडिया लेखन – Media lekhan in hindi

 

अभिव्यक्ति और माध्यम कक्षा ग्यारहवीं – Abhivyakti aur madhyam for class 11

 

प्रश्न – भारत में पहला समाचार वाचक किसे माना जाता है ?

उत्तर – भारत में पहला समाचार वाचक देव ऋषि नारद को माना गया है।

 

प्रश्न – टेलीविजन जनसंचार का कैसा माध्यम है ?

उत्तर – टेलीविजन जनसंचार का दृश्य अथवा श्रव्य माध्यम है।

 

प्रश्न – फोटो पत्रकारिता का क्या महत्व है

उत्तर – फोटो पत्रकारिता का अहम महत्व है , जो बात हजारों शब्द नहीं कह पाते , वह एक फोटो के माध्यम से कहा जा सकता है। इसलिए फोटो पत्रकारिता का अहम योगदान पत्रकारिता के क्षेत्र में है।

 

प्रश्न – पत्रकार की बैसाखीयाँ किन्हे माना जाता है ?

उत्तरसच्चाई , संतुलन , निष्पक्षता , स्पष्टता , इन सभी मूल्यों को पत्रकार की बैसाखी या मानी जाती है। इसके बिना पत्रकारिता के मूल्य की हानि होती है।

 

प्रश्न  – संचार किसे कहते हैं ?

उत्तर – दो या दो से अधिक व्यक्तियों के बीच सूचनाओं , विचारों और भावनाओं के आदान-प्रदान को संचार कहते हैं।

 

प्रश्न – संचार के प्रमुख फायदे क्या है ?

उत्तर – संचार माध्यमों के विकास से भौगोलिक दूरियां कम हो गई है। क्षणभर में कोई भी व्यक्ति अपने सूचनाओं को विश्व के किसी भी कोने में पहुंचा सकता है। उसके विचार लिखित , मौखिक अथवा दृश्य के रूप में एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंच जाते हैं।

 

प्रश्न – सफल संदेश किस प्रकार के होते हैं ?

उत्तर – सफल संदेश स्पष्ट , सीधा और सरल और कम शब्दों के होते है।

 

प्रश्न – फीडबैक पद्धति क्या है ?

उत्तर – फीडबैक पद्धति के माध्यम से संदेश ठीक प्रकार से प्राप्त करता तक पहुंचा या नहीं यह जानकारी मिल पाती है और उसमें सुधार करने का अवसर प्राप्त हो पाता है।

 

प्रश्न  – संचार के मुख्य प्रकार कौन-कौन से हैं ?

उत्तर – संकेतिक संचार , मौखिक और अमौखिक संचार , अंत: व्यक्ति संचार , अंतर्वैयक्तिक संचार , समूह संचार , जनसंचार आदि

 

प्रश्न – जनसंचार के प्रमुख कार्य क्या है ?

उत्तर – जनसंचार के प्रमुख कार्य शिक्षित करना , सूचना देना तथा मनोरंजन करना और विचारों की अभिव्यक्ति मुख्य कार्य हैं।

 

प्रश्न – जन संचार के आधुनिक माध्यम कौन-कौन से हैं ?

उत्तर – जन संचार के आधुनिक माध्यम – पत्र , पत्रिका , समाचार , टेलिविजन , सिनेमा , मोबाइल अथवा कंप्यूटर है।

 

प्रश्न – हिंदी के कुछ पत्रिकाओं के नाम लिखिए ?

उत्तर – धर्मयुग , साप्ताहिक , हिंदुस्तान , दिनमान , इंडिया टुडे और साप्ताहिक कादंबिनी।

 

प्रश्न – रेडियो जनसंचार का कैसा माध्यम है ?

उत्तर – रेडियो जनसंचार का श्रव्य माध्यम में जो सर्वाधिक लोकप्रिय है। यह वायरलेस पद्धति पर काम करती है , जिसमें सरकारी अथवा गैर सरकारी रेडियो स्टेशन कार्य करती है।

 

प्रश्न – सिनेमा का आविष्कार किसने किया ?

उत्तर – सिनेमा का अविष्कार थॉमस अल्वा एडिशन ने किया।

 

प्रश्न – भारत की पहली मुक फिल्म कौन सी थी ?

उत्तर  – भारत की पहली मूक फिल्म राजा हरिश्चंद्र 1913 थी। जिसे दादा साहब फाल्के ने बनाया था।

 

प्रश्न – पहली बोलती फिल्म का नाम क्या था ?

उत्तर – पहली बोलती फिल्म आलम आरा थी जो 1931 में बनी।

 

प्रश्न – इंटरनेट जनसंचार का कैसा माध्यम है ?

उत्तर – इंटरनेट आधुनिक जनसंचार का सबसे शक्तिशाली माध्यम है। यहां रेडियो , टेलीविजन , किताब , सिनेमा , पुस्तकालय , खेल , मनोरंजन आदि जितने भी प्रकार के साधने वह सब उपलब्ध हैं।

 

प्रश्न – द्वारपाल किसे कहा जाता है ?

उत्तर – द्वारपाल जो द्वार की रक्षा करते हैं उन्हें कहा जाता है। किंतु जनसंचार में द्वारपाल का कार्य जनसंचार में प्रकाशित होने वाले सामग्री पर नियंत्रण रखना और उसकी विवेचना करना तथा उसका मार्गदर्शन करना होता है। द्वारपाल ही निश्चित करता है कि वहां किस प्रकार की सामग्री प्रसारित और प्रकाशित की जाएगी।

 

Read more helpful articles

Alankar in hindi सम्पूर्ण अलंकार

सम्पूर्ण संज्ञा Sampoorna sangya

सर्वनाम और उसके भेद sarvnaam in hindi

अव्यय के भेद परिभाषा उदहारण Avyay in hindi

संधि विच्छेद sandhi viched in hindi grammar

समास की पूरी जानकारी | समास के भेद | samas full details | समास की परिभाषा  

रस। प्रकार ,भेद ,उदहारण ras ke bhed full notes

पद परिचय। Pad parichay in hindi

स्वर और व्यंजन की परिभाषा swar aur vyanjan

विलोम शब्द Vilom shabd hindi grammar

Hindi varnamala swar aur vyanjan हिंदी वर्णमाला

हिंदी काव्य ,रस ,गद्य और पद्य साहित्य का परिचय।

शब्द शक्ति , हिंदी व्याकरण।Shabd shakti

छन्द विवेचन – गीत ,यति ,तुक ,मात्रा ,दोहा ,सोरठा ,चौपाई ,कुंडलियां ,छप्पय ,सवैया ,आदि

हिंदी व्याकरण , छंद ,बिम्ब ,प्रतीक।

शब्द और पद में अंतर।उपवाक्य। उपवाक्य की परिभाषा। शब्द पद में अंतर स्पस्ट करें।

अक्षर। भाषा के दो रूप हैं लिखित और मौखिक। अक्षर की विशेषता।अक्षर का स्वरूप।

बलाघात के प्रकार उदहारण परिभाषा आदि।बलाघात के भेद सरल रूप में।balaghat in hindi

स्वनिम की परिभाषा।स्वनिम।स्वनिम के संक्षेप उदहारण अथवा नोट्स।स्वनिम बलाघात

 

Question papers with solutions for class 11 and 12

Itihas prashn patra class 12

हिंदी का पेपर कैसे हल करें | How to solve hindi question paper of class 11

History model test paper class 12

इतिहास प्रश्न पत्र हल सहित कक्षा 11 | Class 11 history solved question paper

Hindi question paper class 12 with solution – प्रश्न पत्र हल सहित

CBSE Class 12 question paper of Hindi subject with solution

Hindi prashna patra with solution for class 11

 

Follow us here

Follow us on Facebook

Subscribe us on YouTube

Leave a Comment

You cannot copy content of this page