डिजिटल मार्केटिंग पूरी जानकारी ( Digital Marketing in Hindi )

इस लेख के माध्यम से हम सीखेंगे डिजिटल मार्केटिंग क्या है इसके फायदे क्या है और क्यों आज यह जरूरी हो चुकी है।

बदलते समय के साथ डिजिटल मार्केटिंग युवाओं और छात्रों के लिए एक ऐसे कैरियर के रूप में सामने आया हैं , जिसमें रोजगार की संभावनाएं अपार है।

जिस तरह पिछले कुछ वर्षों से भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या बढ़ रही है। ऐसे समय में युवाओं के लिए इंटरनेट नाम और पैसे कमाने के अनेक अवसर सामने लेकर आया है। डिजिटल मार्केटिंग एक ऐसा माध्यम है, जिसके जरिए हम उन अवसरों को प्राप्त कर सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

मार्केटिंग का कोई भी रूप जिसके लिए इंटरनेट का उपयोग किया जा रहा हो डिजिटल मार्केटिंग कहलाती है। सोशल मीडिया marketing, Email marketing तथा यहां तक की Blog जिसमें अभी आप यह जानकारी पढ़ रहे हैं, यूट्यूब वीडियोस भी डिजिटल मार्केटिंग का ही एक प्रकार है।

Marketing का अर्थ होता है प्रचार-प्रसार , दूसरे शब्दों में कहें तो प्रमोशन और जब यही प्रमोशन ऑनलाइन किया जाता है तो उसे Digital Marketing नाम दिया जाता है। डिजिटल मार्केटिंग ( Digital marketing ) के अन्तर्गत यह सभी क्रियाएं इंटरनेट के माध्यम से की जाती है, जिसके लिए अलग-अलग डिजिटल चैनल्स का उपयोग किया जाता है।

हम आगे इनके बारे में विस्तार से जानेंगे लेकिन आइए पहले यह समझते हैं

डिजिटल मार्केटिंग क्यों जरूरी है?

आज किसी भी छोटे या बड़े व्यवसाय के लिए डिजिटल मार्केटिंग अत्यंत जरूरी हो चुकी है।

क्योंकि अब वह समय गया जब Businesses अपने उत्पादों एवं सेवाओं का प्रचार प्रसार करने के लिए सिर्फ पोस्टर, बैनर, पर्चे इत्यादि का इस्तेमाल करती थी।।

आज चूंकि करोड़ों लोग इंटरनेट का इस्तेमाल मोबाइल और कंप्यूटर में कर रहे हैं तो अपने बिजनेस को उन internet उपयोगकर्ताओं तक पहुंचाने के लिए, अपने बिजनेस का विज्ञापन करने के लिए इन्हीं इलेक्ट्रॉनिक Devices का इस्तेमाल करना होगा। डिजिटल मार्केटिंग करके अपने व्यवसाय में हम वह डाटा प्राप्त कर सकते हैं, जो कभी भी पारंपरिक मार्केटिंग में नहीं कर सकते।

आप अपने कस्टमर्स की उम्र, रुचि, लिंग, देश और यहां तक की आपके बिजनेस में ग्राहकों का किस प्रोडक्ट पर ज्यादा इंटरेस्ट है यह भी पता कर सकते हैं। इन रुचि और वर्ग को अलग करके आप अपने व्यवसाय के लिए उपयोगकर्ता की श्रेणी का चयन कर सकते हैं।

यह भारी भरकम खर्चे से भी बचाता है जैसे पारंपरिक रूप से पहले विज्ञापन किया जाता था।

इस पद्धति में पैसे और शारीरिक रूप से अधिक व्यय करना पड़ता था।

डिजिटल मार्केटिंग के माध्यम से वह सभी कार्य आसान हो गया है।

आप निश्चित एक दायरे तक अपने विज्ञापन को दिखा सकते हैं , अपनी मार्केटिंग कर सकते हैं। इतना ही नहीं अपने सामर्थ्य और इच्छाशक्ति के अनुसार विश्वव्यापी मार्केटिंग में भी हाथ आजमा सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार

अब हम जानेंगे उन तरीकों या रणनीति के बारे में, जिनका इस्तेमाल कंपनियों तथा संस्थाओं द्वारा सबसे ज्यादा डिजिटल मार्केटिंग में किया जाता है।

Pay-Per-Click Advertising

एक कंपनी अपने उत्पादों एवं सेवाओं को प्रमोट करने के लिए विज्ञापन का इस्तेमाल करती हैं। और Pay per click एडवरटाइजिंग का ऐसा मॉड्यूल है, जिसमें कंपनी के Ads को देखने पर अगर कोई यूजर उस ऐड पर क्लिक करता है।

प्रत्येक क्लिक के अनुसार पैसे उस कंपनी को देने होते हैं

सामान्यतः लोग pay per click advertising के लिए

  • Google Ads,
  • Facebook ads,
  • Instagram ads,
  • Snapchat ads,
  • YouTube ads

जैसे platform का इस्तेमाल करते है।

सोशल मीडिया मार्केटिंग

जब मार्केटिंग हेतु सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे

  • फेसबुक,
  • इंस्टाग्राम,
  • टि्वटर,
  • यूट्यूब,
  • स्नैपचैट

इत्यादि का इस्तेमाल किया जाता है तो इसे सोशल मीडिया मार्केटिंग नाम दिया जाता है।

सोशल मीडिया से मार्केटिंग की प्रक्रिया में कंपनियां अपने उत्पादों सेवाओं को अपने सोशल Accounts के जरिए प्रमोट करती हैं। क्योंकि आज दुनिया में करोड़ों लोग सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हैं, तो मार्केटिंग करने के लिए यह एक बेहतरीन प्लेटफॉर्म है किसी बिजनेस के लिए लिए।

SEO search engine optimization

बिना पैसे खर्च किए गूगल, Bing जैसे सर्च इंजन के माध्यम से अपने प्रोडक्ट्स को प्रमोट और Sell करने में SEO बेहद कारगर तरीका है। इसमें समय लगता है, लेकिन लंबे समय में पैसा खर्च किए बगैर अपने बिजनेस को प्रमोट करने का यह एक प्रभावी तरीका है।

SEO kya hai ? SEO in hindi की पूरी जानकारी एक जगह पर

Content marketing

जब कंपनियां व्यवसाय के लिए अपने ग्राहकों को आकर्षित करने और अपने बिजनेस को प्रमोट करने के लिए किसी भी प्रकार के Content जैसे

  • Text,
  • वीडियो, इं
  • फोग्राफिक्स ,
  • E-books

का इस्तेमाल करती है तो वह कंटेंट मार्केटिंग कहलाती है।

डिजिटल मार्केटिंग के सबसे महत्वपूर्ण घटकों में से एक है कंटेंट मार्केटिंग ।

Native advertising

किसी आर्टिकल को पढ़ते समय आपने बीच में कोई ऐसा ही लिंक जरूर देखा होगा जो उस आर्टिकल से संबंधित हो, यह नेटिव एडवरटाइजिंग का एक प्रकार है।

जिसके माध्यम से उन्हीं लोगों को टारगेट किया जाता है, जिन लोगों की किसी खास प्रोडक्ट या सर्विस में रुचि हो सकती है।

ईमेल मार्केटिंग

आज सोशल मीडिया का दौर है, लेकिन आज भी internet live stats नामक वेबसाइट के अनुसार प्रति सेकंड करोड़ों की संख्या में ईमेल पूरी दुनिया में भेजे जाते हैं।

अतः जब मार्केटिंग के लिए ईमेल का इस्तेमाल किया जाता है तो वह ईमेल मार्केटिंग कहलाता है।

ईमेल मार्केटिंग करने हेतु Targeted कस्टमर्स की ईमेल लिस्ट होनी चाहिए।

एफिलिएट मार्केटिंग

मार्केटिंग के इस प्रकार में सीधे एक कंपनी नहीं बल्कि कंपनी के ग्राहक उत्पादों एवं सेवाओं को प्रमोट करते है। और ग्राहकों को बेचे गए प्रोडक्ट पर कमीशन प्राप्त करता है।

आज दुनिया में कई सारी कंपनियां एफिलिएट programs ऑफर कर खुद भी तथा अपने ग्राहकों को भी पैसे कमाने का मौका दे रही है। और अपने बिजनेस को Grow कर रही हैं।

तो यह थे डिजिटल मार्केटिंग के अंतर्गत इस्तेमाल होने वाले कुछ सबसे लोकप्रिय digital channels अब सवाल आता है कि

क्या डिजिटल मार्केटिंग सिर्फ व्यवसाय के लिए है?

डिजिटल मार्केटिंग न सिर्फ आज Businesses के लिए बल्कि व्यक्तिगत तौर पर भी एक मनुष्य के लिए फायदेमंद हो चुकी है। एक व्यक्ति अपने टैलेंट अपनी skill को डिजिटल मार्केटिंग के जरिए ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाकर फायदा ले सकता है।

उदाहरण के लिए

यूट्यूब,

ब्लॉग/वेबसाइट

जैसे digital channels का उपयोग कर लोग आज अपनी नॉलेज, ideas अपने टैलेंट को पूरी दुनिया के सामने पेश कर रहे हैं। और अच्छा नाम तथा पैसा कमा रहे हैं।

अतः अपनी ऑनलाइन पहचान बनाने और इसका विस्तार करने के लिए कोई भी व्यक्ति डिजिटल मार्केटिंग कर सकता है।

डिजिटल मार्केटिंग कैसे करें?

डिजिटल मार्केटिंग करने हेतु आपको सबसे पहले डिजिटल मार्केटिंग के अंतर्गत आने वाले इन चैनल्स को बारीकी से समझना होगा।

  • क्योंकि जब आपको यह जानकारी हो जाती है कि डिजिटल चैनल्स किस तरह काम करते हैं
  • तब डिजिटल मार्केटिंग करना फायदेमंद होगा
  • अतः डिजिटल मार्केटिंग सीखने के लिए आज market में कई सारे Institute हैं
  • साथ ही आप ऑनलाइन भी गूगल, यूट्यूब की मदद से इस कोर्स को सीख सकते हैं
  • बता दें एक कुशल मार्केटर कि आज मार्केट में काफी ज्यादा डिमांड है

अतः भविष्य में एक अच्छा डिजिटल मार्केटर बनने के लिए आज ही डिजिटल मार्केटिंग सीखने की शुरुआत कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें

Blogging kya hai 

Hosting konsi kharide ? Sasti hosting kese kharide

Website kaise banaye in hindi

ऑनलाइन पैसा कमाने के 21 तरीके

Internet kya hai ? Internet ke fayde aur nuksan

How to register a company in India

क्रेडिट कार्ड की पूरी जानकारी

अपनी किताब कैसे छपवाएं

Conclusion

उपरोक्त अध्ययन से स्पष्ट होता है कि डिजिटल मार्केटिंग का भविष्य भारत में उज्जवल है।

आज लगभग पूरे विश्व में डिजिटल मार्केटिंग का बोलबाला है। इंटरनेट की उपलब्धता पूरे विश्व भर में सुलभ हो गई है , यह प्रत्येक व्यक्ति तक अपनी पहचान बनाने में निरंतर प्रयासरत है। ऐसे में डिजिटल मार्केटिंग का भविष्य बड़े-बड़े व्यवसाई देख रहे हैं और उसमें कार्य कर रहे हैं यह नौकरियों के सृजन में भी अहम भूमिका निभा रही है।

प्रत्येक देश की जीडीपी में ऑनलाइन द्वारा कमाए गए पैसे निरंतर बढ़ते जा रहे हैं।

सरकार इसके प्रति सजग और सतर्क भाव से कार्य करने को विवश है।

क्योंकि यह एक ऐसा व्यवसाय है जो स्वयं के आत्मनिर्भरता के साथ-साथ दूसरों को नौकरियां भी प्रदान कर रहा है। वह भी सस्ते और सुलभ माध्यम से। इसकी अपार संभावनाओं के कारण आज डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में कार्य करने वालों की महत्ता को स्वीकार किया जा रहा है।

आशा है यह लेख आपको पसंद आया हो , आपके ज्ञान की वृद्धि हुई होगी।

आपके रुचि को डिजिटल मार्केटिंग की ओर आकर्षित कर सकती हो और आप डिजिटल मार्केटिंग के विभिन्न माध्यमों को जान सके होंगे।

किसी भी प्रकार के प्रश्न के लिए आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर संपर्क कर सकते हैं।

हम आपकी अवश्य ही सहायता करने को तत्पर रहेंगे।

2 thoughts on “डिजिटल मार्केटिंग पूरी जानकारी ( Digital Marketing in Hindi )”

  1. Thank you sir for writing very interesting information on digital marketing in Hindi. Aisi information Dene Ki Koshish Apne blog per Karte Hain dhanyvad

    Reply

Leave a Comment