मास्क कैसे बनाये – कम पैसे में बढ़िया मास्क

वर्तमान समय में कोरोना वैश्विक महामारी covid-19 के रूप में उभरकर प्रस्तुत हुई है। ऐसे में सभी को सामाजिक दूरी बनाए रखने के साथ मास्क पहनने की सख्त हिदायत दी जा रही है। लोगों में यह भ्रम फैला हुआ है कि , वह कंपनी का महंगा मास्क (N95 etc) पहन कर ही बच सकते हैं , जबकि ऐसा नहीं है।

आज हम आपको आसानी से घर में बनाए जाने वाले मास्क के बारे में बताएंगे। इस मास्क को बनाने के लिए आप किन कपड़ों का प्रयोग करें , यह भी जान सकेंगे।

Corona virus se bachne ke liye Mask kaise banaye
Corona virus se bachne ke liye Mask kaise banaye

मास्क कैसे बनाये – कम पैसे में बढ़िया मास्क

मास्क को मुखौटा भी कहा जाता है। प्राचीन समय में नाटकों के प्रदर्शन में मुखोटों का विशेष प्रयोग देखने को मिलता था। किसी भी चरित्र को रंगमंच पर दिखाने के लिए पात्र को मुखौटा पहनाया जाता था।

तब किसी ने यह नहीं सोचा था , भविष्य में इस प्रकार के मुखोटे का प्रयोग सामान्य रूप से व्यक्ति करेंगे। आज मास्क अर्थात मुखौटा पहनने की सख्त आवश्यकता हो गई है। आज जीवन की रक्षा इस मुखोटे को पहन कर ही संभव है।

 

मास्क की आवश्यकता

वर्तमान समय में मास्क पहनने की नितांत आवश्यकता हो गई है। वैश्विक महामारी ने पूरे विश्व को अपने दायरे में शामिल किया है। इसका प्रकोप इतना भयावह है सोचकर ही रूह कांप जाती है। पूरा विश्व इस महामारी के दुष्परिणाम को भुगत रहा है। यह महामारी कोरोना के रूप में फैला है , जिसे चाइनीस वायरस भी कहा जा रहा है।

यह अभूतपूर्व महामारी है , इससे पूर्व इस प्रकार की महामारी को मानव समाज ने नहीं देखा था। कायास यह लगाया जा रहा है , इस वायरस को किसी लैब/प्रयोगशाला में तैयार किया गया है। करोना महामारी से बचाव का एकमात्र उपाय है , एक-दूसरे से सामान्य दूरी बना कर रखना।  अपने पूरे शरीर को ढक कर रखना , अपने आंख और विशेष रूप से मुंह तथा नाक को ढकना।

अपने चेहरे को पूर्ण रूप से ढकने के लिए व्यक्ति को आज मुखोटे के रूप में मास्क की आवश्यकता पड़ रही है। इस महामारी से बचने का एकमात्र उपाय यही है।

साथ ही कुछ समय के नियमित अंतराल पर अपने हाथ को साफ करते रहे।

जो भी व्यक्ति बाहर समाज में निकलता है , उसे मास्क पहनने की आवश्यकता है।  घर में सावधानी के तौर पर पहना जा सकता है। किंतु जो व्यक्ति घर से बाहर निकलते हैं , उन्हें विशेष रुप से मास्क पहनने की आवश्यकता है।

 

मास्क बनाने में किन कपड़ो का प्रयोग करें

समाज में यह भ्रम फैला हुआ है कि मास्क बाजार से ही खरीद कर प्रयोग करना चाहिए। यहाँ आप गलत साबित होंगे। मास्क का कार्य मुख्य रूप से बाहर के हवा और वातावरण से आपके स्वांस तंत्र को बचाना होता है। बाजार में उपलब्ध मास्क पूंजी लाभ के लिए तैयार किए जाते हैं।

उनका प्रयोग विशेष उद्देश्यों के लिए होता है।

जैसे वायु प्रदूषण के समय आप उन सभी मास्क को अनिवार्य रूप से प्रयोग में ले सकते हैं।  वर्तमान समय में आप मास्क अपने घर पर बना कर प्रयोग कर सकते हैं।

इसके लिए भारत सरकार भी आपको घर पर मास्क बनाने के लिए प्रेरित कर रही है।

मास्क बनाने के लिए आपको सूती कपड़े जैसे गमछा , लूंगी , बनियान , रुमाल जैसे कपड़ों का प्रयोग करना चाहिए।

यह श्वास लेने में मददगार होते हैं।

इस प्रकार के मास्क पहनने से व्यक्ति को सांस लेने में किसी प्रकार की समस्या नहीं आती। जबकि देखा गया है अन्य प्रकार के कपड़ों का प्रयोग करने से व्यक्ति को सांस लेने में काफी तकलीफ होती है।

इस प्रकार के कपड़ों के प्रयोग से आपको बचना चाहिए।

इसे बनाने में आपको सूती कपड़ों का ही विशेष रूप से प्रयोग करना चाहिए।

 

मास्क बनाने में किन सावधानी को बरतें

मास्क बनाने के पीछे आपका मुख्य उद्देश्य अपने स्वांस तंत्रियों को सुरक्षित रखना है। इस से आप वातावरण में फैले गलत बैक्टीरिया से बच सकते हैं। जो बैक्टीरिया या जीवाणु आपके शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं , उससे काफी हद तक बचा जा सकता है।

कोरोना के समय यह जीवाणु या बैक्टीरिया आपके हाथों के द्वारा भी अधिक मात्रा में फैल रहा है।

बनाने से पूर्व आपको निम्न प्रकार के सावधानी बरतनी चाहिए –

  • कपड़े का चयन सावधानी से करें।
  • सूती कपड़ा , साफ , स्वच्छ हो इसका ध्यान रखें।
  • आपके हाथ पूर्ण रूप से स्वच्छ हो।
  • आपके हाथों पर किसी प्रकार का गलत वैक्टीरिया ना लगा हो। यह ध्यान रखें।
  • मास्क बनाने में प्रयोग किए जाने वाले सभी औजारों को जैसे कैंची , सुई , सिलाई मशीन सभी विशेष रूप से साफ किया गया हो।

 

किसको मास्क पहनना अधिक जरुरी है

सामान्य तौर पर मास्क पहनने की आवश्यकता सभी को नहीं है। जो व्यक्ति घर में रह रहे हो , उनका घर से बाहर निकलना ना हो , ऐसे व्यक्ति को पहनने की आवश्यकता नहीं है। उनके आस-पास यदि कोई व्यक्ति आता है , ऐसी स्थिति में पहन सकते हैं।

घर में रहने वाले व्यक्तियों को पहनने की आवश्यकता अधिक नहीं होती ।

जो व्यक्ति घर से बाहर किसी कार्य वश निकलते हैं।

बाजार या अन्य कार्यों के लिए घर से बाहर जाना होता है।

ऐसी स्थिति में उस व्यक्ति को मास्क पहनना अति आवश्यक है।

कोरोना वायरस का विषाणु वातावरण में इस प्रकार फैला है , व्यक्ति के छोटी सी लापरवाही के कारण अपना शिकार बना लेते हैं।

माना जा रहा है यह विषाणु आंखों के माध्यम से , तथा सामने किसी व्यक्ति के द्वारा बोलने से भी फ़ैल रहा है।

जब व्यक्ति बोलता है उसके मुख से अधिक मात्रा में विषाणु बाहर निकलता है।

जो सामने वाले व्यक्ति को अपना शिकार बनाता है।

ऐसी स्थिति में घर से बाहर निकलने वाले प्रत्येक व्यक्ति को अपना मुंह , आंख और नाक को विशेष रूप से ढकना चाहिए।

आंखों के लिए विशेष रूप से तैयार किए गए चश्मे की सहायता से ढकना चाहिए।

अपने नाक और मुंह को बचाने के लिए ,  आप मास्क , गमछा तौलिया  आदि का प्रयोग कर सकते हैं।

 

मास्क प्रयोग में सावधानी

मास्क का प्रयोग वर्तमान समय में अधिक आवश्यक हो गया है।

व्यक्ति अपनी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मास्क पहनने पर मजबूर है। मास्क पहनना मजबूरी नहीं अभी आवश्यकता भी है।

  • मास्क पहनने तथा उसके प्रयोग में कुछ सावधानियां आपको आवश्यक रूप से बरतनी चाहिए।
  • आपके नाक और मुंह को ठीक प्रकार से ढकने में सक्षम हो।
  • मास्क की गुणवत्ता ठीक हो।
  • मास्क साफ-सुथरे और सूती कपड़े का बना हो इसको ध्यान रखें।
  • घर पर तैयार किए गए मास्क को नियमित रूप से साफ करते रहें।
  • अपने हाथों से मास्क को बार-बार छूने से बचें।
  • मास्क इतने टाइट या जटिल तरीके से ना बांधे गए हो , जिससे आपको श्वास लेने में परेशानी हो।
  • लंबे समय तक मास्क पहनने से बचना चाहिए।
  • इसके लिए आपको अपने घर पर अधिक समय रहना चाहिए।

 

लेखक के विचार –

कोरोना जैसे वैश्विक महामारी में बचाव का वर्तमान समय में एक ही माध्यम है , स्वयं को समाज से दूर रखने का। अर्थात भीड़-भाड़ या उस जगह पर जाने से बचना चाहिए , जहां सामाजिक गतिविधियां होती हो। अगर आवश्यकता ना हो तो घर से बाहर ना निकले। किसी कारणवश आप को घर से बाहर निकलते है तो सरकार द्वारा बताए गए सतर्कता को बरतनी चाहिए।

अपने चेहरे को ठीक प्रकार से ढक कर रखें , जिसके कारण आप कोरोना के वायरस से बच सकेंगे।

यह वायरस सीधे तौर पर नाक मुंह और आंख के माध्यम से शरीर में प्रवेश करते हैं।

शरीर के प्रतिरोधक क्षमता को गुणात्मक रूप से घटाता है।

जिसके कारण शरीर का प्रतिरोधक  क्षमता शीघ्रता से कम होता है।

अन्तः व्यक्ति इस वायरस का शिकार बन जाता है। इस का प्रयोग आप बाजार में उपलब्धता और सुगमता के आधार पर कर सकते हैं।

अंत में आपसे इतना ही कहा जा सकता है कि , आप स्वयं को सतर्क रखें।

स्वच्छता का पालन करें और सामाजिक दूरी बनाकर स्वयं तथा समाज को बचाएं।

Read more

Beti bachao beti padhao slogan

Best Safety slogan in hindi

Swachh Bharat Abhiyan slogans in hindi

Slogan on environment in Hindi

Bedtime stories in hindi

Hindi funny story for everyone haasya kahani

Motivational kahani

17 Hindi stories for kids with morals

Maha purush ki kahani

Gautam budh ki kahani

Sikandar ki kahani hindi mai

Guru ki mahima hindi story – गुरु की महिमा

Exoplanet in Hindi एक्सोप्लेनेट्स ग्रह जहां होती है लोहे की बारिश

Insurance in Hindi – Full details with types and examples

Internet kya hai ? Internet ke fayde aur nuksan

How to register a company in India

Dolphin in Hindi – डॉल्फिन की पूरी जानकारी

कोरोना वायरस क्या है पूरी जानकारी

कोरोना वायरस पर हिंदी कहानियां

Follow us here

Follow us on Facebook

Subscribe us on YouTube

2 thoughts on “मास्क कैसे बनाये – कम पैसे में बढ़िया मास्क”

  1. बहुत ही अच्छी जानकारी दी आप ने आपका धन्यवाद

    Reply
  2. मास्क बनाना काफी आसान है परंतु जो साथ में बाकी जानकारी आपने दी है मैं भी बहुत लाभदायक है. आप बहुत अच्छा आर्टिकल लिखते हैं और आपकी वेबसाइट बहुत अच्छी है

    Reply

Leave a Comment