हिंदी सामग्री

Months name in hindi with festivals हिंदी में महीनो के नाम

महीनो के नाम हिंदी में जानें Months name in hindi with festivals | दोस्तों आप जानकर हैरान हो जाएंगे की हम भारत में रहते है लेकिन हमारे यहां के आधे से ज्यादा लोग हिंदी महीनो का नाम नहीं जानते | वो इसलिए क्योकि इसकी चर्चा काम होती है और अंग्रेजी पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है | अगर आप सर्च करके गूगल द्वारा यहां पहुंचे है तो यकीं मानिये आप उन लोगो में से हैं जो अपनी संस्कृति में रूचि रखते हैं और जानना चाहते हैं | और यह भारत के लिए ख़ुशी की बात है |

Hindi months name with various famous and simple festivals information.

Months name in hindi with festivals

Months of the Year List

1. January – जनवरी

2. February – फ़रवरी

3. March – मार्च

4. April – अप्रैल

5. May – मई

6. June – जून

7. July – जुलाई

8. August – अगस्त

9. September – सितंबर

10. October – अक्टूबर

11. November – नवंबर

12. December – दिसंबर

 

Hindu all 12 months name in Hindi language with festivals

हमने आपको यहां पर ना सिर्फ महीनो के नाम की जानकारी दी है बल्कि कौन से महीने में कौनसा त्यौहार आता है | यह भी बताया है | तो ध्यानपूर्वक पढ़ें व समझें |

1. Chaitra (30 / 31* Days) शुरू होता है March 22 / 21* ( leap year )

मुख्य त्यौहार – चैत्र माह –

  • छत्रपति शिवजी महाराज जयंती
  • चैत्र कृष्ण पक्ष ४ गणेश संकट चतुर्थी
  •  वीरांगना अहिल्याबाई बलिदान दिवस
  • चैत्र शुक्ल पक्ष १ गुढी पड़वा
  • चैत्र शुक्ल पक्ष ८ श्री राम नवमी
  • चैत्र पूर्णिमा हनुमान जयंती

 

2. Vaisakha (31 Days) शुरू होता है April 21

मुख्य त्यौहार – वैशाख  माह –

  • वैशाख कृष्ण पक्ष ४ गणेश चतुर्थी
  • वैशाख शुक्ल पक्ष ३ अक्षय तृतीया , परशुराम जयंती , मुस्लिम रमजान का आरम्भ
  • वैशाख कृष्ण पक्ष ११ मोहिनी एकादशी 
  • वैशाख पूर्णिमा बुद्ध पूर्णिमा

 

3. Jyaistha (31 Days) शुरू होता है May 22

  • ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष ४ गणेश संकट चतुर्थी
  • ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष १४ फलहरिणी कालिका पूजा
  • ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष ६  विंध्यवासनी पूजा , शीतलषष्ठी यात्रा उड़ीसा
  • ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष १० गंगा दशहरा समाप्ति
  • ज्येष्ठ शुक्ल  पक्ष १३ शिवराज्याभिषेक दिवस
  • ज्येष्ठ पूर्णिमा  वट पूर्णिमा

 

4. Asadha (31 Days) शुरू होता है June 22

  • आषाढ़ कृष्ण पक्ष ४  गणेश संकट चतुर्थी ,दक्षिणायन , सौर वर्षा ऋतू आरम्भ 
  • आषाढ़ कृष्ण पक्ष ११ योगिनी एकादशी
  • आषाढ़ अमावस्या खारग्रास , सूर्यग्रहण
  • आषाढ़ शुक्ल पक्ष ११ देशिनी आषाढ़ी एकादशी
  • आषाढ़ पूर्णिमा गुरु पूर्णिमा

 

5. Shravana (31 Days) शुरू होता है July 23

  • श्रवण कृष्ण पक्ष ४  गणेश संकट चतुर्थी ,
  • श्रवण शुक्ल  पक्ष ५ नागपंचमी
  • श्रवण पूर्णिमा नारियल पूर्णिमा , रक्षाबंधन 

 

6. Bhadra (31 Days) शुरू होता है August 23

  • भाद्रपद कृष्ण पक्ष १ पतेती ,
  • भाद्रपद कृष्ण पक्ष ४  गणेश संकट चतुर्थी
  • भाद्रपद कृष्ण पक्ष ७ श्री कृष्ण जयंती
  • भाद्रपद कृष्ण पक्ष ८ जन्माष्टमी , गोपालाष्टमी 
  • भाद्रपद शुक्ल पक्ष ३ हरतालिका तृतीया , गौरी व्रत
  • भाद्रपद शुक्ल पक्ष ५ ऋषि पंचमी
  • भाद्रपद शुक्ल पक्ष १४ अनंत चतुर्दशी  , श्राद का आरम्भ १५ दिन के लिए

 

7. Asvina (30 Days) शुरू होता है September 23

  • आश्विन कृष्ण पक्ष ३ अंगारक गणेश संकट चतुर्थी
  • आश्विन अमावस्या श्राद का समापन
  • आश्विन शुक्ल पक्ष १  घटस्थापना
  • आश्विन शुक्ल पक्ष १० दशहरा / विजया दशमी
  • आश्विन पूर्णिमा कोजागरी पूर्णिमा , बाल्मीकि जयंती , शरद पूर्णिमा

 

8. Kartika (30 Days) शुरू होता है October 23

  • कार्तिक कृष्ण पक्ष ३  गणेश संकट चतुर्थी 
  • कार्तिक कृष्ण पक्ष १२ धनदर्योदशी 
  • कार्तिक कृष्ण पक्ष १४ नरक चतुर्दशी , लक्ष्मी पूजा ,
  • कार्तिक अमावस्या दीपावली , बलिप्रदा 
  • कार्तिक शुक्ल पक्ष २ भाई दूज
  • कार्तिक पूर्णिमा गुरु नानक जयंती , तुलसी विवाह

 

9. Margshirsh / Agrahayana (30 Days) शुरू होता है November 22

  • मार्गशीर्ष कृष्ण पक्ष ४ गणेश संकट चतुर्थी
  • मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष १४ श्रीदत्त जयंती

 

10. Pausa (30 Days) शुरू होता है December 22

  • पौष कृष्ण पक्ष ४ गणेश संकट चतुर्थी
  • पौष कृष्ण पक्ष लोहड़ी ,
  • पौष कृष्ण पक्ष ९ मकर संक्रांति

11. Magha (30 Days) शुरू होता है January 21

  • माघ कृष्ण पक्ष – ४ गणेश संकट चतुर्थी
  • माघ अमावस्या – मौनी अमावस्या
  • माघ शुक्ल पक्ष १४ सौर वसंत ऋतू प्रारम्भ

12. Phalguna (30 Days) शुरू होता है February 20

  • फाल्गुन कृष्ण पक्ष ११ विजय एकादशी
  • फाल्गुन कृष्ण पक्ष १३ महाशिवरात्रि
  • फाल्गुन शुक्ल पक्ष १४ होली
  • फाल्गुन पूर्णिमा धुलेंडी , धूलिवंदन

 

यह भी पढ़ें –

जो कुआँ खोदता है वही गिरता है Panchtantra stories  

आयुष के बरसाती | बाल मरोरंजन की कहानी Moral stories 

हिंदी में लघु कहानियाँ

रोचक कहानियाँ – किस्से      

टपके का डर

जब रखोगे तभी तो उठाओगे | दादी – नानी की कहानी

अपने किए का क्या इलाज

बोध कथा। अपने दल को हारने नहीं दूंगा।लघु कहानी।

सत्य के प्रति दृढ़ता। बोध कथा।

समाज सेवा | बोध कथा |

Hindi motivational story

 

If you love this article hindi months name then do share and comment below.

 

 

कृपया अपने सुझावों को लिखिए | हम आपके मार्गदर्शन के अभिलाषी है 

facebook page hindi vibhag

YouTUBE

Google+

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *