अद्भुत रस ( परिभाषा, भेद, उदाहरण ) सम्पूर्ण जानकारी

इस लेख में अद्भुत रस की परिभाषा, भेद, उदाहरण, स्थायी भाव, आलम्बन, उद्दीपन, अनुभाव तथा संचारी भाव आदि का विस्तृत रूप से अध्ययन किया जा सकता है। परिभाषा:- विस्मय करने वाला रस अद्भुत रस कहलाता है। जब विस्मय भाव अपने अनुकूल , आलंबन , उद्दीपन ,अनुभाव और संचारी भाव का सहयोग पाकर अस्वाद का रूप धारण …

Read moreअद्भुत रस ( परिभाषा, भेद, उदाहरण ) सम्पूर्ण जानकारी

भयानक रस ( परिभाषा, भेद, उदाहरण ) पूरी जानकारी

यहां भयानक रस का विस्तृत ब्यौरा प्रस्तुत किया गया है। इस लेख में आप भयानक रस की परिभाषा, भेद, उदाहरण, स्थायी भाव, आलम्बन, उद्दीपन, अनुभाव तथा संचारी भाव आदि का विस्तृत रूप से अध्ययन करेंगे। लेख को तैयार करते समय हमने विद्यार्थियों के कठिनाई स्तर को ध्यान में रखा है तथा सरल बनाने का प्रयास किया …

Read moreभयानक रस ( परिभाषा, भेद, उदाहरण ) पूरी जानकारी

रौद्र रस ( परिभाषा, भेद, उदाहरण ) पूरी जानकारी

यहां रौद्र रस की समस्त जानकारी उपलब्ध है। रौद्र रस की की परिभाषा, भेद, उदाहरण, स्थायी भाव, आलम्बन, उद्दीपन, अनुभाव तथा संचारी भाव  आदि का संपूर्ण विवरण इस लेख में हासिल करेंगे। परिभाषा जहां क्रोध की व्यंजना हो वहां रौद्र रस माना जाता है। काव्य के अनुसार सहृदय में वासना रूप से विद्यमान क्रोध नामक स्थाई …

Read moreरौद्र रस ( परिभाषा, भेद, उदाहरण ) पूरी जानकारी

वीर रस ( परिभाषा, उदाहरण, भेद ) की पूरी जानकरी

प्रस्तुत लेख में वीर रस की परिभाषा, भेद, उदाहरण, स्थायी भाव, आलम्बन, उद्दीपन, अनुभाव तथा संचारी भाव आदि का विस्तार पूर्वक उल्लेख है। इसे पढ़कर आप वीर रस को भली-भांति जान पाएंगे और अपने ज्ञान की वृद्धि कर पाएंगे। इस लेख को तैयार करते समय हमने विद्यार्थी के कठिनाई स्तर को ध्यान में रखा है। वीर …

Read moreवीर रस ( परिभाषा, उदाहरण, भेद ) की पूरी जानकरी

डिजिटल मार्केटिंग पूरी जानकारी ( Digital Marketing in Hindi )

इस लेख के माध्यम से हम सीखेंगे डिजिटल मार्केटिंग क्या है इसके फायदे क्या है और क्यों आज यह जरूरी हो चुकी है। बदलते समय के साथ डिजिटल मार्केटिंग युवाओं और छात्रों के लिए एक ऐसे कैरियर के रूप में सामने आया हैं , जिसमें रोजगार की संभावनाएं अपार है। जिस तरह पिछले कुछ वर्षों …

Read moreडिजिटल मार्केटिंग पूरी जानकारी ( Digital Marketing in Hindi )

हास्य रस : परिभाषा, पहचान, उदाहरण, स्थायी भाव

इस लेख में हास्य रस की परिभाषा, पहचान, उदाहरण, स्थायी भाव, आलम्बन, उद्दीपन, अनुभाव तथा संचारी भाव आदि विस्तृत रूप से लिखा गया है। इस लेख के अध्ययन उपरांत आप रस के विषय में गहन जानकारी हासिल करेंगे। यह लेख विद्यालय , विश्वविद्यालय तथा प्रतियोगी परीक्षाओं के अनुरूप तैयार किया गया है। इसके अध्ययन से आप हास्य …

Read moreहास्य रस : परिभाषा, पहचान, उदाहरण, स्थायी भाव

करुण रस : परिभाषा, पहचान, उदाहरण और स्थायी भाव

आज हम करुण रस की परिभाषा, पहचान, और उदाहरण, स्थायी भाव, आलम्बन, उद्दीपन, अनुभाव तथा संचारी भाव आदि का विस्तृत रूप से अध्ययन करेंगे। इसके अध्ययन से आप करुण रस तथा अन्य रस की जानकारी हासिल करते हुए अपनी समझ को विकसित करेंगे। इतना ही नहीं रस की समग्र जानकारी प्राप्त करेंगे। परिभाषा :- जहां किसी …

Read moreकरुण रस : परिभाषा, पहचान, उदाहरण और स्थायी भाव

पुनरुक्ति अलंकार : परिभाषा, पहचान और उदाहरण

पुनरुक्ति अलंकार का साधारण सा अर्थ है जहां बार-बार शब्दों की आवृत्ति हो। इस लेख में आप पुनरुक्ति अलंकार की परिभाषा, पहचान और उदाहरण का विस्तृत रूप से अध्ययन करेंगे। यह विद्यार्थियों के कठिनाई के स्तर को पहचान करते हुए लिखा गया है। इस लेख का अध्ययन विद्यालय , विश्वविद्यालय तथा प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए …

Read moreपुनरुक्ति अलंकार : परिभाषा, पहचान और उदाहरण

मानवीकरण अलंकार की परिभाषा, पहचान, कविता और उदाहरण

जहां चेतन,अचेतन अवस्था को मनुष्य के क्रियाकलापों से जोड़ा जाए वहां मानवीकरण अलंकार होता है। इस लेख में आप मानवीकरण अलंकार की परिभाषा, पहचान, कविता और उदाहरण का विस्तार पूर्वक अध्ययन करेंगे। मानवीकरण अलंकार को समझाने के लिए तथा स्पष्टीकरण के लिए प्रश्न-उत्तर भी दिए गए हैं। इस लेख को पढ़कर आप अनेकों प्रकार से …

Read moreमानवीकरण अलंकार की परिभाषा, पहचान, कविता और उदाहरण