51 Happy Republic day quotes in Hindi ( गणतंत्र दिवस शुभकामनाएं कोट्स )

गणतंत्र दो शब्दों के मेल से बना है गण+तंत्र अर्थात जनता का शासन। भारत का संविधान 2 वर्ष 11 महीना 18 दिन में बनकर तैयार हुआ था। 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है इस दिन 1950 में भारत का संविधान लागू किया गया था।दिल्ली स्थित इंडिया गेट पर इस त्यौहार को बड़े धूमधाम से राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाया जाता है। सेना अपने शौर्य पराक्रम का प्रदर्शन राजपथ पर करती है। वहीं देश की विशेष कलाकृतियां भी देखने को मिलती है।इस लेख में गणतंत्र दिवस के सुविचार, अनमोल वचन, कोट्स को पढ़ेंगे और गौरवान्वित महसूस करेंगे।

Republic day quotes, wishes, greetings, and status in Hindi

1.

ना रुके यह रथ विजय का,

आज ऐसा काम कर दे

तन, मन, और जीवन अपना,

वतन के नाम कर दे।

Bhagat Singh Quotes

चंद्रशेखर आजाद के सुविचार

2.

short shayari on republic day in hindi
short shayari on republic day in hindi

भारतीय सूर वीरो का पराक्रम देख

दुश्मन भी खा जाते हैं धोखा

देश के असम्मान का

यह वीर देते कभी न मौका। ।

3.

inspirational quotes on republic day in hindi
inspirational quotes on republic day in hindi

इरादों से जो टकराए

वह तूफान कहलाता है

जो तूफानों पर छा जाए

Telegram channel

वह भारतीय जवान कहलाता है।

सुभाष चंद्र बोस के वचन

4.

slogan on republic day in hindi
slogan on republic day in hindi

जाती पाती से ऊपर उठकर

जीने का अवसर है

आया गणतंत्र दिवस का

महापर्व है आया।।

5.

heart touching republic day quotes in hindi
heart touching republic day quotes in hindi

जब तक रहेगा नीला अंबर

तब तक रहेगा देश अमर

शहीद हुए कितने बलिदानी

और हुए हैं कितने अमर।।

Kargil Vijay Diwas quotes

Vijay Diwas quotes in hindi

6.

लोकतंत्र के राष्ट्र में

सबका अपना अधिकार हो

यह बताने गणतंत्र आया

इसका भी सम्मान हो। ।

7.

बस यही प्रार्थना मेरी भगवान से हर बार रहे

जितनी बार जन्म लूँ जन्म मेरा हिंदुस्तान में रहे

8.

राष्ट्र का सम्मान किसी तारीख से तय नहीं होती

हम वह भारतीय है

जो प्रतिक्षण राष्ट्र सम्मान के लिए तत्पर रहते हैं। ।

9.

तेरा वैभव अमर रहे मां, हम दिन चार रहे ना रहे।

गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

Republic day quotes and wishes

10.

गणतंत्र का ना जोश कभी कम होगा

ना सम्मान कभी कम होगा

गर मरना भी पड़े

तो तिरंगा ही अपना शान होगा। ।

Mahatma Gandhi Quotes

लाल बहादुर शास्त्री के सुविचार

11.

इस दिल को हम जी सकें

इसके लिए बलिदानीयों ने

अपना बलिदान दिया था

हे खुशहाल हम क्योंकि पूर्वजों

ने कठिन परिश्रम किया था। ।

12.

कर सकूं मैं देश की सेवा ऐसा तो कोई क्षण मिले

रहूं सदा समर्थ मैं  बस ऐसा ही बल मिले। ।

13.

दो अक्षर का खूबसूरत नाम (गण+तंत्र)

जनता का शासन इसका काम

देशभक्ति को गले लगा कर

आओ करें हम इसे सलाम। ।

14.

आपसी वैमनस्य राष्ट्रीय हित के लिए खतरनाक है

जिसका त्याग कर सभी को हृदय से लगाना चाहिए।

हैप्पी रिपब्लिक डे

15.

मां तुझे सलाम, तू मस्तक पर विराजे

यही है मेरी शान

तिरंगा मिले कफन में मुझे यही उपहार होगा

मेरा हर जीवन

तेरे आंगन में पले यही अरमान होगा मेरा। ।

Independence Day Quotes

भारत के वीर सपूत तिरंगे की आन-बान-शान की खातिर अपने प्राण की आहुति देने में आगे रहते हैं। भारत जैसा देश अन्यत्र नहीं मिलेगा जहां धन-संपदा, प्राकृतिक प्रेम मिल सके। ऐसा अन्यत्र दुर्लभ है। जिसके गोद में पलकर हम बड़े हुए उसकी सम्मान की रक्षा करना हमारा कर्तव्य बनता है। ऐसे देश में हर जन्म मिले यही एक सच्चा वीर अरमान करता है।

Powerful Republic day quotes in HIndi

16.

कितने खुशनसीब है हम कि हमें

आजादी में सांस लेने का अवसर मिला

आभारी हैं हम उस देशभक्त के

जिन्होंने हमें यह अवसर दिया। ।

जिस माटी में पलकर हम बड़े हुए, जिसके अन्न, जल, वायु को ग्रहण कर हमने अपनी दुर्बल काया को विकसित किया। उस देश के प्रति हमारी भी जिम्मेदारी बनती है। हमारा सर्वस्व देश पर न्योछावर हो ऐसा प्रण होना चाहिए। देश की सेवा में अपना योगदान किसी भी पद्धति से हो सके यह गौरव की बात होना चाहिए। इसलिए प्रत्येक देशवासियों को अपना सर्वस्य वतन के नाम ही न्योछावर कर देना चाहिए।

17

सदैव जीत दर्ज करने से ही

देशभक्ति नहीं होती

कभी-कभी हारना भी चाहिए।

राष्ट्रहित में अपनों के लिए राष्ट्र की सेवा के लिए हार को स्वीकार करना भी देशभक्ति का एक रूप है। अपनों से हारना, अपनों के लिए हारना जीत का एक अद्भुत रूप होता है। यह रूप उसी प्रकार होता है जैसे एक पिता अपने पुत्र के लिए हारने को भी तैयार रहता है।

नरेंद्र मोदी के सुविचार

अमित शाह के सुविचार

Inspirational Republic day quotes

18

तिरंगे की रक्षा केवल खून बहाने से ही नहीं होगा

हमें तिरंगे के प्रति ईमानदारी

कर्तव्य निष्ठा का भाव रखना होगा

इसी में तिरंगे का आत्मविश्वास परिलक्षित होता है। ।

19

राष्ट्रभक्ति का परिचय

आपके अनुशासन और

व्यवहार कुशलता से प्रदर्शित होता है

यही आपको उत्तम नागरिक बनाता है।

20

प्रतिस्पर्धा के इस दौर में

किसी भी नागरिक के हितों का

दमन नहीं करना

राष्ट्र के प्रति सच्ची निष्ठा है।

गणतंत्र दिवस पर शुभकामना संदेश

21

राष्ट्रभक्ति की राह में

लाभ हानि का कोई

मूल्य नहीं रह जाता

रह जाता है तो सिर्फ राष्ट्रभक्ति।

22

स्वयं की उन्नति राष्ट्र की उन्नति है

इस भाव को हृदय में धारण करते हुए

राष्ट्रहित में कार्य करते रहे

गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

23

यदि आप सर्वश्रेष्ठ हैं तो भी याद रखिए

इस देश का वह व्यक्ति भी

जो आप से नीचे है

उसकी चिंता करना भी हमारा ही कर्तव्य है।

24

एक बार सोच बदल कर देखें

राष्ट्र स्वयं बदल जाएगा।

गणतंत्र दिवस की अनेकों अनेक बधाइयां।

योगी आदित्यनाथ के सुविचार

अटल बिहारी वाजपेई सुविचार

25

हमारा आचरण ही

देश को उस बुलंदी पर

पहुंचा सकता है

जहां अन्य के लिए

आदर्श का प्रेरणा पुंज हो।

26

राष्ट्र उन्नति के मार्ग में अनेकों बाधा आता रहेंगा

किंतु तिरंगा तो गंतव्य तक अवश्य पहुंचेगा । ।

27

मैं ईमानदार हूं यह एक शानदार विचार है

किंतु मुझसे ज्यादा कोई ईमानदार नहीं यह

ईर्ष्या का भाव है, जिसे त्याग कर

तिरंगे की आन बान शान में समर्पित होना चाहिए।

28

अहंकार व्यक्ति के चरित्र को बर्बाद कर देता है

जिससे तिरंगे की शान में कमी आती है।

29

इस भारत भूमि से सब कुछ पाया है

इस धरा ने अपना कर्तव्य निभाया है

धन मान-सम्मान सब पाया है

हम भी निभाए कर्तव्य जैसे

बलिदानीयों ने निभाया है। ।

30

सच्ची भक्ति वह नहीं जो,

करोड़ों का स्वामी बनकर बैठा रहे

सच्ची भक्ति तो वह है जो

करोड़ों पाकर करोड़ों का दान करे।

31.

लोकतंत्र का यह पर्व निराला

देश हुआ खुशहाल हमारा

राष्ट्र उन्नति है निज उन्नति

आओ मिलकर दे सहारा। ।

अन्य लेख भी पढ़ सकते हैं

Makar Sankranti Quotes in Hindi

Lohri Quotes, wishes, shayari, status in Hindi

21 Basant Panchami Quotes in Hindi

Holi Quotes, wishes, status in Hindi

21 Abdul kalam quotes hindi

समापन

भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है। लोकतंत्र की रक्षा करने के लिए भारत का संविधान भी है, जिसे 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया। संविधान निर्माण के सदस्यों ने 2 वर्ष 11 महीने 18 दिन में बना कर तैयार किया था। अपना भारत एकमात्र ऐसा देश है जहां सभी वर्गों को एक समान दृष्टि से देखा जाता है। सभी के लिए कानून व्यवस्था सामान्य है, चाहे वह किसी भी वर्ग, जाति, धर्म, समूह से क्यों ना आता हो।

भारत की लोकतांत्रिक व्यवस्था का पर्व गणतंत्र दिवस है। प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को राजपथ पर देश भर की विभिन्न कलाकृतियां प्रस्तुत की जाती है। जिसमें सांस्कृतिक छवि के साथ-साथ भारत की मजबूती और रक्षा कवच का भी प्रदर्शन होता है। इस झाँकी में अत्याधुनिक हथियार, तकनीक आदि को शामिल किया जाता है। यह उत्सव जनता को विश्वास दिलाने का अवसर होता है कि उनका देश और भविष्य सुरक्षित है। जनता अपने देश के प्रति कर्तव्यों का निर्वाह करें, जिससे उनका देश निरंतर उन्नति की ओर बढ़ सके।

आशा है उपरोक्त लेख आपको पसंद आया हो, अपने सुझाव, विचार तथा राष्ट्रभक्ति से संबंधित लेख कमेंट बॉक्स में लिखें, हमें पढ़कर खुश होने का अवसर मिलता है।

Sharing is caring

Leave a Comment