Top 10 Delhi university college
कॉलेज जानकारी

टॉप 10 दिल्ली विश्वविद्यालय कॉलेज। Top 10 delhi university college of north campus in hindi

Contents

टॉप 10 कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय

Top 10 Delhi university college

 

 

हिंदी विभाग में आपका स्वागत है | आज हम इस पोस्ट के द्वारा आपको टॉप 10 Delhi university college से अवगत करवाना चाहते हैं | इस पोस्ट में आपको सारी जानकारी मिलेगी | आशा है आपको पसंद आये |

 

1 सेंट स्टीफेंस कॉलेज (st . Stephen’s college )

यह कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय का सबसे पुराना कॉलेज है जो दिल्ली विश्वविद्यालय के पूर्वी परिसर में स्थापित है। इस कॉलेज की स्थापना 1881 में ईसाई मिशनरियों ने उच्च शिक्षा के लिए स्थापित किया था।

 

प्रमुख व्यक्ति जिन्होंने यहाँ अध्ययन किया है –

मोंटेक सिंह आलूवालीया ( प्लानिंग आयोग अध्यक्ष )

खुशवंत सिंह ( प्रसिद्ध पत्रकार , लेखक ,उपन्यासकार आदि )

बरखा दत्त  ( प्रसिद्ध हिन्दुस्तान टाइम्स की सम्पादक )

कपिल सिबल ( प्रसिद्ध सुप्रीम कोर्ट के वकील , HRD मिनिस्टर , कांग्रेस के सभासद )

 

प्रमुख विषय –

अर्थशास्त्र / ECONOMICS

इतिहास / HISTORY

गणित / MATHMETICS

अंग्रेजी / ENGLISH

रसायन शास्त्र / CHEMISTRY

 

Top 10 Delhi university college
Top 10 Delhi university college

 

 

2 श्री राम कॉलेज कॉमर्स ( Shri Ram College of Commerce )

यह निजी / प्राइवेट कॉलेज है। इस कॉलेज की स्थापना स्वर्गीय श्री राम जी ने वर्ष 1926 में किया था। यह कॉलेज 1957 तक दरियागंज पुरानी दिल्ली में हुआ करता था वर्तमान में यह कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय के दक्षिणी प्रांगण north campus में है। इस कलगे की खास विशेषता यह है कि यहाँ स्नातक के मात्र दो विषय है। यह कहैं कि यहाँ मात्र दो विषय में विशेष शिक्षा दी जाती है। १ कॉमर्स  , २ इकोनॉमिक्स।

यह कॉलेज अति महंगा और नामी कॉलेज है। यहाँ का प्लेसमेंट सबसे महंगा होता है यह कॉलेज अपने कोर्स को गति देने के लिए फ्रांस के विश्वविद्यालय से साझा करता है।

 

मुख्य विषय –

अर्थशास्त्र / ECONOMICS

वाणिज्य / COMMERCE

 

 

 

3 हिन्दू कॉलेज ( Hindu college )

हिन्दू कॉलेज ( Delhi university college ) की स्थापना 1899  गई थी। यहाँ विज्ञानं , कला संकाय , वाणिज्य की शिक्षा मुख्य रूप से दी जाती है। इस कॉलेज का ऐतिहासिक महत्व है। यह कॉलेज बौद्धिक स्तर की वार्ता के लिए  प्रसिद्ध है। 1947 के विभज से पूर्व यहाँ मुख रूप से बौधिक  चर्चा  हुआ करती थी। इस कॉलेज का नाम नाट्यशास्त्र , क्रिकेट आदि क्षेत्र में  जाना जाता है मशहूर नाटककार इम्त्याज़ अली  और मशहूर क्रिकेटर अजय जडेजा ने यह  प्राप्त क्या था।    इस कॉलेज का मंत्रालय से जैव प्रौद्योगिकी के लिए स्टार कॉलेज का दर्जा प्राप्त है जो इस कॉलेज को अन्य कॉलेज से अलग और खास बनता है।

प्रमुख विषय –

अर्थशास्त्र / ECONOMICS

इतिहास / HISTORY

राजनीति विज्ञानं / POLITICAL SCIENCE

दर्शनशास्त्र / PHILOSOPHY

वाणिज्य / COMMERCE

 

 

 

4 हंसराज कॉलेज ( Hansraj college )

दिल्ली यूनिवर्सिटी के नॉर्थ कैंपस स्थित हंसराज कॉलेज ( Delhi university college ) की अपनी एक अलग पहचान है। हंसराज कॉलेज की स्थापना डीएवी कॉलेज मैनेजिंग कमेटी ने 26 जुलाई 1948 में की थी। यह कॉलेज पहले तीन दशकों तक केवल पुरुषों के लिए ही था। महान शिक्षाविद् महात्मा हंसराज के नाम पर इस कॉलेज का नाम रखा गया। शुरुआत में कॉलेज में 313 छात्रों को पंजीकरण हुआ।

हंसराज ने पूर्व में अध्ययन किये हुए कुछ ज्ञात नाम प्रस्तुस्त किये है जो अब राष्ट्रिय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने क्षेत्र में प्रमुख नेता / अग्रणी की भूमिका निभा रहे है।

छह साल तक कॉलेज का संचलान डीएवी स्कूल से होता रहा। उसके बाद नॉर्थ कैंपस में 15 एकड़ में कॉलेज बनकर तैयार हुआ। कॉलेज का उद्घाटन 3 अक्टूबर 1954 को देश के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने किया। 1975 तक यह कॉलेज सिर्फ लड़कों के लिए था। बाद में इसे को-एड बना दिया गया।

हंसराज ( Delhi university college ) दिल्ली विश्वविद्यालय का पहला कॉलेज है इसके कैंपस में में एक स्मारक राष्ट्रिय ध्वज वाला पहला सेन्ट्रल यूनिवर्सिटी है। यहा 5000 से आधीक क्षात्र निकाय वाले सबसे बड़े कॉलेज में से एक है। हंसराज कॉलेज में इनडोर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स indoor sports coplax और विश्वविद्यालय में एक मात्र इलेक्ट्रॉनिक शूटिंग electronic shooting रेंज के साथ सुसज्जित स्पोर्ट्स की सुधा भी है। यहां के शैक्षणिक माहौल और बेहतरीन फैकल्टी के कारण इस कॉलेज को स्टार कॉलेज का दर्जा मिला है।

इंडिया टुडे-नीलसन भारत के बेस्‍ट कॉलेज सर्वे 2016 में हंसराज कॉलेज को टॉप साइंस कॉलेज की लिस्‍ट में 5वां स्‍थान दिया गया है. सर्वे 2016: ये हैं देश के बेस्ट कॉलेज।

 

प्रमुख विषय –

अर्थशास्त्र / ECONOMICS

गणित / MATHMETICS

अंग्रेजी / ENGLISH

रसायन शास्त्र / CHEMISTRY

वाणिज्य / COMMERCE

 

यह भी जरूर पढ़ें – top 20 sandeepp maheshwari life changing quotes 

 

5 मिरांडा हाउस कॉलेज ( Miranda house )

मिरांडा हाउस दिल्ली विश्वविद्यालय का एक प्रतिष्ठित महिला महाविद्यालय है। इसकी स्थापना सन् 1948 में की गई थी।वास्तुकला में यह औपनिवेशिक युग के दौरान पाए गए लाल ईंटों के पैटर्न के साथ बनाया गया है जिसे भाग मिल्खा भाग , फुकरी , और द रिलाक्टैंट फ़ण्डामेंटलिस्ट जैसे फिल्मों में दिखाया गया है। इस महाविद्यालय से निकलीं अनेकों महिलाएं देश-विदेश में महत्वपूर्ण पदों पर काम कर रही हैं।

यह महाविद्यालय 2500 से अधिक छात्राओं को कला (आर्ट्स) और विज्ञान के क्षेत्र में शिक्षा प्रदान करता है।यह कुछ नामों के लिए पर्यटन संचालन , अनुसंधान , ग्रीन केमिकल , मिडिया स्टडीज में करियर ऐड पाठ्यक्रम उपलब्ध करता है। नेत्रहीन चुनौती के क्षात्रों के लिए यह कॉलेज पहला कंप्यूटर आधारित संसाधन केंद्र है। इसकी शिक्षक भी भी अपनी प्रतिभा और समर्पण के लिए प्रसिद्ध हैं। इंडिया टुडे-नीलसन भारत के बेस्‍ट कॉलेज सर्वे 2016 में मिरांडा हाउस को टॉप आर्ट्स कॉलेज की सूची में पांचवां स्‍थान दिया गया था।
मिरांडा कॉलेज को वर्ष 2017 के लिए राष्ट्रिय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क में भारत का सर्वश्रेष्ठ कॉलेज के रूप में दर्जा दिया गया है।

 

सुविधाएँ: मिरांडा हाउस में मिलने वाली सुविधाएं इस प्रकार है:-

पुस्तकालय, छात्रावास, कैफेटेरिया, खेलकूद, प्लेसमेंट सेल।

 

मिरांडा हाउस यूनिवर्सिटी कॉलेज फॉर विमन में निम्नलिखित कोर्स कराए जाते हैं:

बैचलर ऑफ आर्ट्स ( बंगाली में) – यह एक फुल टाइम कोर्स है। जिसकी पूर्णता पर बी. ए. (ऑनर्स) की डिग्री मिलती है। इसकी अवधि ३ वर्ष है। प्रवेश के लिये 12वीं उतीर्ण होना जरूरी है।
बैचलर ऑफ आर्ट्स इन हिंदी – यह एक पूर्णकालिक पाठ्यक्रम है। बी. ए. (ऑनर्स) की डिग्री मिलती है। अवधि ३ वर्ष। १२वीं के बाद प्रवेश मिलता है।
बैचलर ऑफ आर्ट्स इन संस्कृत
बैचलर ऑफ आर्ट्स इन इकनॉमिक्स
बैचलर ऑफ आर्ट्स इन इंग्लिश
बैचलर ऑफ आर्ट्स इन जियोग्राफी
बैचलर ऑफ आर्ट्स इन हिस्ट्री
बैचलर ऑफ आर्ट्स इन म्यूजिक
बैचलर ऑफ आर्ट्स इन फिलॉस्फी
बैचलर ऑफ आर्ट्स इन पॉलिटिकल साइंस
बैचलर ऑफ आर्ट्स इन सोशियोलॉजी
मास्टर ऑफ आर्ट्स इन मैथमेटिक्स

नेशनल इंस्टीट्यूशन रैंकिंग फ्रेमवर्क में इस वर्ष नार्थ कैंपस का जलवा है। कॉलेजों की जारी रैंकिंग में मिरांडा हाउस जहां एक बार फिर पहले स्थान पर कायम है। वहीं पहली बार इस रैंकिंग में हिस्सा ले रहे सेंट स्टीफंस कॉलेज को दूसरा स्थान मिला है। ऐतिहासिक हिंदू कॉलेज को चौथा स्थान प्राप्त हुआ है। जबकि कामर्स के लिए देश भर में प्रतिष्ठित श्रीराम कॉलेज आफ कामर्स विगत वर्ष से पीछे खिसक कर सातवें स्थान पर आया है। यह सभी कॉलेज नार्थ कैंपस के हैं और दस प्रमुख कॉलेजों में इनका स्थान है।

साउथ कैंपस से प्रतिष्ठित लेडी श्रीराम कॉलेज आफ कामर्स फार वुमन आठवें स्थान पर आया है। ये दोनों कॉलेज विगत वर्ष भी दस प्रमुख कॉलेजों में थे। दिलचस्प यह है कि इस बार डीयू के अधिकांश कॉलेजों ने एनआइआरएफ रैंकिंग में अपनी भागीदारी की थी। शायद यही कारण है कि पूरे देश में 100 में से 27 कॉलेज केवल इस रैंकिंग में डीयू के हैं। डीयू के बेहतर प्रदर्शन पर डीयू के कुलपति प्रो.योगेश त्यागी ने खुशी जताई और सबको शुभकामनाएं दी हैं।

 

प्रमुख विषय –

अर्थशास्त्र / ECONOMICS

गणित / MATHMETICS

अंग्रेजी / ENGLISH

राजनीति विज्ञानं / POLITICAL SCIENCE

दर्शनशास्त्र / PHILOSOPHY

वाणिज्य / COMMERCE

 

 

 

6 शहीद सुखदेव कॉलेज ( Shaheed Sukhdev College of Business studies )

शहीद शुखदेव कॉलेज की स्थापना वर्ष 1987 में हुआ था। यह कॉलेज पूर्वी दिल्ली में विवेक विहार के पास स्थित है। SSCBS और CBS को भारत में पहला कॉलेजिएट बिजनेस कॉलेज के रूप में बनाया गया था जिसमें प्रबंध और सूचना प्रौद्योगिकी की स्नातक शिक्षा में उत्कृष्टता प्रदान करने के लिए एक दृष्टि थी सैद्धांतिक कोर्स वर्क शिक्षण के लिए इसके व्यवहारिक दृष्टिकोण में कुछ उच्च प्रतिष्ठा कंपनियों जैसे मेकिंगसे एंड कंपनी Nokia , अनसर्ट एंड यंग, केपीएमजी , मैं कुछ पेशेवर नामों को पेशेवर प्लेसमेंट आकर्षित करती है।

शहीद सुखदेव कॉलेज ऑफ़ बिजनेस स्टडीज़ (एसएससीबीएस) ( Delhi university college ), दिल्ली विश्वविद्यालय, भारत के तहत अधोस्नातक प्रबंधन अध्ययन का एक प्रमुख संस्थान है। इसका नाम सुखदेव थापर के नाम पर दिया गया, जो आजादी से पहले के समय में एक प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी थे। इस कॉलेज की स्थापना 1987 में मानव संसाधन विकास मंत्रालय के द्वारा भारत में महाविद्यालयी बिजनेस स्कूल के पहले संस्थान के रूप में की गयी, जो अधोस्नातक स्तर पर प्रबंधन शिक्षा प्रदान करता है। यह कॉलेज पूर्वी दिल्ली में विवेक विहार के पास स्थित है और दिल्ली मेट्रो की ब्लू और रेड लाइन्स के साथ भली प्रकार से जुड़ा है। इसे एशिया के सबसे अच्छे अधोस्नातक बिजनेस स्कूलों में से एक माना जाता है।

 

प्रमुख विषय –

बैचलर प्रबंध स्टडीज / BECHELORS IN MANAGEMENT STUDIES
बीटेक / B.TECH

 

यह भी जरूर पढ़ें – Top 15  quotes by Swami Vivekanand in hindi

 

7 रामजस कॉलेज ( Ramjas college )

दिल्ली विश्वविद्यालय के तीन प्रमुख संस्थापक कॉलेजों में से एक रामजस की स्थापना 1917 में हुई थी यह भारत की आंदोलन के बाद से समृद्ध विरासत प्रसिद्ध परंपराओं और राजनीति में अपने छात्रों को सक्रिय भागीदारी के लिए जाना जाता है बुनियादी ढांचे में यह आधुनिक अत्याधुनिक कक्षाओं सभागार और एक प्रौद्योगिकी अनुकूल पुस्तकालय का दावा करता है रामजस के छात्र लड़के लड़की दोनों है कैंपस में हॉस्टल की सुविधा के लिए कुछ कॉलेजों में से यह एक है रामजस ने जनवरी 2017 में 2 साल मनाए कॉलेज उत्तरी छात्रों में सस्ते और सर्वोत्तम खाने के जोड़ों के लिए होने के कारण छात्रों के बीच काफी लोकप्रिय भी है।

रामजस कॉलेज ( Delhi university college ) की स्थापना महान शिक्षाविद् राय केदार नाथ द्वारा 1917 में की गई. रामजस कॉलेज दिल्ली के सबसे पुराने कॉलेजों में से एक है. रामजस कॉलेज की शुरुआत पुरानी दिल्ली के दरिया गंज स्थित एक परिसर में हुई. वर्तमान में यूनिवर्सिटी एनक्लेव में रामजस कॉलेज का बहुत बड़ा कैंपस है. रामजस कॉलेज की फैकल्टी वर्ल्ड क्लास है। रामजस कॉलेज का उद्देश्य क्रिएटिविटी और लेटेस्ट टेक्नोलॉजी के माध्यम से स्टूडेंट्स का विकास करना है। भारत के बेस्ट कॉलेज इंडिया टुडे-नीलसन सर्वेक्षण 2016 में बेस्ट कॉमर्स कॉलेज में इस कॉलेज को 12वां रैंक दिया गया है।

प्रमुख विषय –

अर्थशास्त्र / ECONOMICS

संख्यांकि / STATISTICS

राजनीति विज्ञानं / POLITICAL SCIENCE

वाणिज्य / COMMERCE

इतिहास / HISTORY

 

 

 

8 इंद्रप्रस्थ कॉलेज महिला ( Indraprastha college for women )

1924 में स्वतंत्रता सेनानी और परोपकारी एनी बेसेंट द्वारा स्थापित आई पी कॉलेज विश्वविद्यालय ( Delhi university college ) की सबसे पुरानी महिला कॉलेज है इनमें हाल ही में अपने परिसर को अपग्रेड किया है ताकि आधुनिक सुविधाओं को सौ प्रतिशत बिजली बैकअप के साथ प्रदान किया जा सके यह मास मीडिया और मास कम्युनिकेशन में स्नातक की डिग्री प्रदान करने वाला एकमात्र कॉलेज है।

दिल्ली यूनिवर्सिटी के इस कॉलेज की स्थापना सन् 1924 में हुई थी. डीयू का ये सबसे पुराना महिला कॉलेज है. वर्तमान में यहां 2670 से अधिक छात्र-छात्राएं शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं. इस कॉलेज की दिल्ली में 10वीं और देश में 20वीं रैंक है. ये कॉलेज दिल्ली के शामनाथ मार्ग क्षेत्र में स्थित है. इस कॉलेज का उद्देश्य महिलाओं में शिक्षा को बढ़ावा देना है. भारत के बेस्ट कॉलेज इंडिया टुडे-नीलसन सर्वेक्षण 2015 में इस कॉलेज को बेस्ट कॉमर्स कॉलेजों की लिस्ट में 15 वीं रैंक दी गई है.

इन्द्रप्रस्थ महिला महाविद्यालय जिसे इंद्रप्रस्थ कॉलेज ( Delhi university college ) या आईपी कॉलेज भी कहा जाता है, की स्‍थापना १९२४ में हुई थी। यह दिल्‍ली विश्‍वविद्यालय का सबसे पुराना महिला महाविद्यालय है। इसका आरंभ चांदनी चौक के जामा मसजिद क्षेत्र के छिप्‍पीवाड़ा में एक पुरानी हवेली की दूसरी मंजिल स्थित कमरे में तीन छात्राओं से हुआ। १९३० में स्नातक पाठ्यक्रम आरंभ हुए एवं १९३८ में विश्‍वविद्यालय द्वारा इन्‍द्रप्रस्‍थ महाविद्यालय को स्नातक महाविद्यालय के रूप में मान्‍यता मिली। कुछ वर्ष पश्‍चात् यह महाविद्यालय सिविल लाइन्‍स क्षेत्र के चन्‍द्रावली भवन में स्‍थानांतरित कर दिया गया और तदोपरांत १९३८ में इसे ब्रिेटिश कमांडर-इन-चीफ के अलीपुर रोड (वर्तमान शाम नाथ मार्ग) स्थित अलीपुर हाउस वाले कार्यालय-सह-आवास में पुन: स्‍थानांतरित कर दिया गया।

 

थियोसॉफिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया से संबद्ध समाजसेवियों के प्रयासों से मूल विद्यालय और महाविद्यालय विकसित हुआ। उन्‍हें थियोसॉफिस्‍ट श्रीमती एनी बेसेंट से प्रेरणा मिली थी। एनी बेसेंट ने उत्तर भारत की महिलाओं को शिक्षित करने का उस समय बीड़ा उठाया ज‍बकि महिलाएँ घर की चारदीवारी तक ही सीमित थीं। उन्‍हें ऐसा लगता था कि विवाह और मातृत्‍व ही उनकी नियति है। अगले दशकों में इस महाविद्यालय की दृष्टि और व्‍यापक हुई जिसमें महिलाओं के समग्र विकास और सशक्तिकरण पर बल दिया जाता रहा है। इन्‍द्रप्रस्‍थ महाविद्यालय ने राष्‍ट्रीय आंदोलन, शिक्षा सुधार आंदोलन और महिला आंदोलन में भाग लिया है और आज यह अपने आप में ही एक आंदोलन है। शिक्षा और सेवाओं के क्षेत्र में इसकी गौरवशाली परंपरा है जिसका पिछले वर्षों में विकास हुआ है। एक सुन्‍दर भवन में अवस्थित इन्‍द्रप्रस्‍थ महाविद्यालय १४.५ एकड़ के हरे-भरे परिसर में अवस्थित है। २००२ में इसके भवन को विरासत का दर्जा प्रदान किया गया।उपनिवेशीय दिल्‍ली के लिए यह महाविद्यालय मील का पत्‍थर है। अब जबकि यह महाविद्यालय अपनी स्‍थापना की शताब्‍दी मनाने के पथ पर अग्रसर है तो यहाँ अनेक शैक्षणिक और अवसंरचनात्‍मक स्‍त्रोतों को जोड़ा गया है। यहाँ अपनी मूल दृष्टि, वंचितों का सशक्तिकरण और उन्‍हें मुख्‍यधारा में शामिल करने का सदैव ध्‍यान रखा जाता है।
महाविद्यालय में दो छात्रावास हैं:

 

इन्‍द्रप्रस्‍थ महिला छात्रावास  कलावती गुप्‍ता छात्रावास
इन दोनों छात्रावासों में ५०० छात्राओं के रहने की व्‍यवस्‍था है। इन्‍द्रप्रस्‍थ महिला छात्रावास में १९६ छात्राओं के रहने की व्‍यवस्‍था है जबकि कलावती गुप्‍ता छात्रावास जुलाई २०१७ से आरंभ होने वाले सत्र में पुन: खुल जाएगा। यहाँ कुल ३०४ छात्राओं के रहने की व्‍यवस्‍था होगी।
महाविद्यालय के पुस्तकालय में बुक बैंक तथा दिव्यांग छात्राओं के लिए लिफ्ट की सुविधा उपलब्‍ध है। यहाँ ८० कम्‍प्‍यूटरों से युक्‍त आई.सी.टी. सेंटर भी है।

महाविद्यालय में संपादन की सुविधाओं से युक्‍त स्‍टूडियो और प्रोडक्‍श्‍न सेंटर, दिल्‍ली विश्‍वविद्यालय के माध्‍यम से विश्‍वव्‍यापी प्रसारण सुविधाओं से युक्‍त सामुदायिक रेडियो के लिए हब, दृश्‍य-श्रव्‍य संसाधन केन्‍द्र, संगोष्‍ठी कक्ष, अत्‍याधुनिक सम्‍मेलन कक्ष, 586 सीटों की क्षमता वाला पूर्णत: वातानुकूलित ऑडिटोरियम, प्रदर्शनियों के लिए चार प्रकोष्‍ठ, सुपरिष्‍कृत प्रयोगशालाएँ और महाविद्यालय की शैक्षणिक और पाठ्येतर गतिविधियों के लिए सहायक अन्‍य अवसंरचनाएँ उपलब्‍ध हैं। महाविद्यालय में खेल का विशाल मैदान है। यहाँ तरणताल, क्‍लाइम्बिंग वॉल, वॉकिंग ट्रैक, व्‍यायामशाला, शूटिंग रेंज, फिटनेस सेंटर जैसी सुविधाएँ उपलब्‍ध हैं।

महाविद्यालय द्वारा अनेक पाठ्येतर गतिविधियों को प्रोत्‍साहन दिया जाता है। इसके पास 26 सीटों वाली बस भी है। महाविद्यालय की विशाल अवसंरचना को संभालने के लिए बिजली का पूरा बैक-अप है जिससे कि महाविद्यालय की गतिविधियाँ बाधामुक्‍त चल सकें।

 

प्रमुख विषय –

अर्थशास्त्र / Economics

मास कनकशन /Mass Media and Mass Communication

वाणिज्य / Commerce

अंग्रेजी / English

राजनीति विज्ञान / Political Science

 

 

 

9 किरोड़ी मल कॉलेज ( Kirori Mal college )

आमतौर पर अमिताभ बच्चन कॉलेज के रूप में जाना जाता है |  किरोड़ीमल कॉलेज ( Delhi university college ) की स्थापना 1954 में हुई थी यह एक सरकारी समर्थित संस्थान है यहां विज्ञान कला और वाणिज्य की धाराओं में शिक्षा अथवा डिग्री प्रदान की जाती है | कॉलेज में छात्रों और पूर्व छात्रों को किरोड़ी अन शब्द से जाना जाता है शिक्षाविदों के अलावा राष्ट्रमंडल मानक पर विकसित एक खेल मैदान के समर्थन के साथ किरोड़ीमल कॉलेज के खेल में एक शानदार इतिहास भी है यह अपने रंगमंच और बहस अथवा समाज के लिए भी जाना जाता है जिसे विश्वविद्यालय सर्किट में सर्वश्रेष्ठ में से एक माना जाता है।

इसमें दिल्ली विश्वविद्यालय के किरोड़ीमल कॉलेज को ए प्लस ग्रेड मिला है। इसी के साथ किरोड़ीमल कॉलेज डीयू का ऐसा तीसरा कॉलेज बन गया है जिसे नैक के ग्रेड में ए-प्लस मिला हो।

इससे पहले डीयू के दो कॉलेजों लेडी श्रीराम कॉलेज ( Delhi university college ) (एलएसआर) और श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स (एसआरसीसी) को ही ए-प्लस ग्रेड मिला था। कॉलेज को ए प्लस मिलने पर किरोडीमल कॉलेज में खुशी का माहौल है। वहीं इस विषय में किरोड़ीमल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. दिनेश खट्टर का कहना है, कि को ए-प्लस नैक ग्रेड मिलना गर्व का विषय है।

 

प्रमुख विषय –

अर्थशास्त्र / Economics

वाणिज्य / Commerce

अंग्रेजी / English

गणित / Mathematics

राजनीतिक विज्ञान / Political Science

 

 

 

10 दौलत राम कॉलेज ( Daulat ram college ) – Delhi university college

दौलत राम कॉलेज( Delhi university college ) की स्थापना सन 1964 में हुई थी दौलत राम कॉलेज कला वाणिज्य और विज्ञान में एक श्रेष्ठ Delhi university college है  | इसे मूल रूप से प्रमिला कॉलेज के रूप में नामित किया गया था | लेकिन इसका नाम बदलकर शिक्षाविद दौलत राम गुप्ता रखा गया था | यह दिल्ली विश्वविद्यालय के सिर्फ 30 कॉलेजों में स्थान रखता है |  इसमें अपने छात्र के लिए विभिन्न विदेशी भाषाओं और महिलाओं और विकास में अतिरिक्त पाठयक्रम लेने का प्रावधान है।

दौलत राम कॉलेज ( Delhi university college ) दिल्ली विश्वविद्यालय के तहत एक महिला कॉलेज है जिसे 1964 में स्थापित किया गया था |  मूल रूप से प्रमिला कॉलेज कहा जाता था |  इसे शिक्षाविद दौलत राम गुप्ता के बाद दौलत राम कॉलेज नाम दिया गया | 1964 में इसे उत्तरी कैंपस के लिए कॉलेज परिसर के बीच पटेल मार्ग पर स्थानांतरित कर दिया गया था | यह उत्तरी कैंपस में स्थित दिल्ली विश्वविद्यालय के सर्वश्रेष्ठ कॉलेजों में से एक है।

दिल्ली विश्वविद्यालय में इसका छात्रावास सबसे अच्छा और शानदार है | इसका अपना रसोई घर भी है दौलत राम कॉलेज को एनएसई द्वारा पहले चक्र ग्रेडिंग में ए ग्रेड से सम्मानित किया गया है | दौलत राम कॉलेज ( Delhi university college ) में पुस्तकालय प्रयोगशाला कंप्यूटर प्रयोगशाला संगोष्ठी हॉल रंगशाला थिएटर कॉलेज सभागार सद्भावना भवन और चिकित्सा सहायता कक्ष की सुविधा भी है |  कॉलेज में 19 विभाग है जो कला विज्ञान और वाणिज्य में स्नातक पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं | 19 विभागों में से 7 मास्टर स्तरीय ट्यूटोरियल कक्षाओं के लिए प्रवेश करते हैं | जो मुख्य कला संकाय में आयोजित m.a. व्याख्यान कक्षाओं को पूरा करते हैं।

 

प्रमुख विषय –

अर्थशास्त्र / Economics

वाणिज्य / Commerce

मनोविज्ञान  / Psychology

गणित / Mathematics

इतिहास / History

 

तो दोस्तों यही हैं Top 10 Delhi university college नार्थ कैंपस में | अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो फेसबुक व्हाट्सप्प हर जगह शेयर जरूर कर दें | नीचे हमारे एंड्राइड एप्प की लिंक दी हुई है उसे भी जरूर डाउनलोड करें |

 

 

एक बार फिर से देख लें हमारी लिस्ट |

टॉप 10 दिल्ली विश्वविद्यालय कॉलेज। Top 10 Delhi university college

 सेंट स्टीफेंस कॉलेज

श्री राम कॉलेज कॉमर्स

हिन्दू कॉलेज

हंसराज कॉलेज

मिरांडा हाउस कॉलेज

शहीद सुखदेव कॉलेज

रामजस कॉलेज

इंद्रप्रस्थ कॉलेज महिला

किरोड़ी मल कॉलेज दौलत राम कॉलेज 

 

दोस्तों अगर आप आगे Delhi university college की निकलने वाली कट ऑफ की पूरी जानकारी हिंदी में जानना चाहते हैं तो हमारे वेबसाइट को सब्सक्राइब जरूर कर लें | आपको बस अपना ईमेल एड्रेस डालना होगा बस | फिर आपके पास सारी Delhi university college की updates आती रहेंगी |

 

दोस्तों हम पूरी मेहनत करते हैं आप तक अच्छा कंटेंट लाने की | आप हमे बस सपोर्ट करते रहे और हो सके तो हमारे फेसबुक पेज को like करें ताकि आपको और ज्ञानवर्धक कंटेंट मिल सकें |

अगर आपको ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसको ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुचाएं  |

व्हाट्सप्प और फेसबुक के माध्यम से शेयर करें |

और हमारा एंड्राइड एप्प भी डाउनलोड जरूर करें

कृपया अपने सुझावों को लिखिए हम आपके मार्गदर्शन के अभिलाषी है 

facebook page hindi vibhag

YouTUBE

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *