फीचर लेखन क्या है Feature lekhan in hindi for class 11 and 12

स्टूडेंट्स आज हम समझेंगे फीचर लेखन क्या होता है और इसका उदाहरण भी देखेंगे |  Feature lekhan in hindi with example for students of class 11 and class 12.

फीचर लेखन एक ऐसा विषय है जिसमे बच्चों को बहुत दिक्कत होती है | लेकिन हमारी वेबसाइट आप बच्चों की दिक्कत समाप्त करने के लिए ही स्थापित की गयी है |

Feature lekhan in hindi with examples

 

संचार अभिव्यक्ति का माध्यम है। आज मानव अपनी अभिव्यक्ति दूसरों तक पहुंचाने के लिए संचार माध्यमों का सहारा लेता है।  संचार क्रांति ने आधुनिक युग में लोगों का कार्य सरल कर दिया है। आज एक व्यक्ति घर बैठे देश – विदेश का हाल आंखों – देखा  देख सकता है। अर्थात किसी भी घटना से वह तत्काल जुड़ सकता है , और उसकी जानकारी ले सकता है।

संचार के अनेक माध्यम है जैसे –  मोबाइल ,  कंप्यूटर ,  इंटरनेट ,  डाक ,  पत्र – पत्रिका आदि।

पत्र – पत्रिका जिसमें ज्ञान – विज्ञान ,  मनोरंजन ,  सिनेमा ,  राजनीति तथा अन्य प्रकार की जानकारी उपस्थित रहती है।  इस लेखन में समाचार लेखन तथा फीचर लेखन का विशेष महत्व है। समाचार लेखन जहां लोगों को किसी घटना से जुड़ी जानकारी उपलब्ध कराता है। वही फीचर लेखन जानकारी के साथ – साथ रोचक तथ्य उपलब्ध कराना और मनोरंजन का भी कार्य करती है।

जहां समाचार पत्र उल्टा पिरामिड शैली में लिखा जाता है।

अर्थात समाचार शैली में  आरंभ से पूरे घटना का विस्तार देते हुए सार की ओर अग्रेषित होता है।  वही फीचर लेखन में ऐसा कोई प्रतिबंध नहीं है , यह कहीं से भी कैसे भी आरंभ किया जा सकता है।

फीचर लेखन किसी घटना का सजीव चित्रण होता है।  अतः इस में पात्र की भूमिका अहम रहती है। वह फीचर लेखन में अग्रणी भूमिका निभाता है।

सारी घटना उस पात्र के इर्द-गिर्द ही घूमती रहती है। पात्र , इस में सजीव होता है , चलाएमान होता है।

Feature lekhan in hindi

फीचर लेखन का मुख्य कार्य पात्रों के द्वारा घटना का प्रस्तुतीकरण है। इस की शैली आकर्षक होनी चाहिए ताकि एक पाठक इस कला से तन्मयता और एकाग्रता के साथ रुचि लेकर पढ़ सके। फीचर लेखन क्योंकि मनोरंजन के साथ-साथ सूचना और ज्ञान भी देता है , इसलिए यहां पर इस लेखन में रूचि उत्पन्न करना अति आवश्यक है।

जहां समाचार पत्र कई प्रकार के बंधनों से बंधा होता है , जैसे सिर्फ और सिर्फ घटना की जानकारी देना।

उल्टा पिरामिड शैली में लेखन करना आदि। इस प्रकार की बाधा फीचर लेखन के साथ नहीं है। फीचर लेखन आकर्षक तरीके से लिखा जाता है।

फीचर लेखन समीक्षा शैली के निकट है , या यूं कहें के फीचर लेखन और समीक्षा शैली एक दूसरे के पर्याय हैं।

फीचर लेखन में  –

  • समाचार की पृष्ठभूमि
  • खोजपरक फीचर  
  • साक्षात्कार फीचर 
  • जीवनशैली फीचर 
  • रूपात्मक फीचर 
  • व्यक्तिगत फीचर 
  • यात्रा फीचर

आदि विषयों पर फीचर लेखन लिखा जाता है।

Feature lekhan in hindi with examples
Feature lekhan in hindi with examples

फीचर लेखन किसी कहानी , उपन्यास की तरह ही कुछ बिंदुओं पर आधारित होता है – आरंभ ,  मध्य ,  चरम ,  समापन , भाषा – शैली , नेता तथा निष्कर्ष।

आरंभ –

फीचर लेखन का आरंभ किसी घटना , यात्रा आदि पर आधारित होता है। आरंभ में पाठक को कुछ ऐसी घटना का जिक्र करना चाहिए जिससे पूरा लेख पढ़ने की उत्सुकता पाठक के मन में बरकरार रहे।

अतः घटना की पूर्ण जानकारी आरंभ में नहीं देना चाहिए जिससे फीचर लेखन की शैली में नीरसता उत्पन्न हो।

मध्य –

इस में घटना की जानकारी को परत दर परत पाठक के समक्ष प्रस्तुत किया जाता है।

जिसके माध्यम से पाठक  आकर्षक और एकाग्रचित्त होकर उस लेख को निरंतरता के साथ पढता है।

चरम –

चरम अर्थात ऐसा ठहराव जहां पर पाठक को पूरी घटना की जानकारी रोचकता के साथ मिल जाती है। लेखक चरम पर हर उस घटना से जुड़े तथ्य को प्रकट कर चुका होता है , जो पाठक तक इस लेख के माध्यम से वह पहुंचाना चाहता है।

समापन –

समापन ऐसा बिंदु है , जहां पर पूरी घटना को प्रस्तुत करने के उपरांत लेखक कुछ सवाल , कुछ विचार व कुछ प्रश्नों के साथ इस लेख का समापन करता है। इसके उपरांत पाठक अपने मन व विवेक के अनुसार इस लेखन पर विचार करता है।

उस घटना पर अपनी राय रखने के लिए प्रेरित होता है।

भाषा शैली –

इस की एक महत्वपूर्ण बिंदु , भाषा शैली है।  भाषा पाठक वर्ग के अनुसार सरल व सुबोध तथा आकर्षक होनी चाहिए। भाषा का प्रयोग क्लिष्ट व अधिक कठिन नहीं होनी चाहिए।

भाषा का प्रयोग पाठक वर्ग को ध्यान में रखकर ही करना चाहिए। जिससे पाठक लेख को पढ़ने में रूचि ले सके।

नेता  –

भाषा शैली जिस प्रकार फीचर लेखन के लिए आवश्यक है , ठीक उसी प्रकार फीचर लेखन में नेता अर्थात वह बिंदु जिसके आगे पीछे यह पूरी घटना या यह लेख चलता है।

उसकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है , जो फीचर लेखन को अन्य लेखन से अलग करती है।

फीचर लेखन में तारतम्यता व सजीव चित्रण के लिए नेता का चलाएमान होना अति आवश्यक है।

निष्कर्ष –

किसी भी कला व लेख में निष्कर्ष की भूमिका अहम रहती है।

यह समापन की भूमिका निभाता है , जिसमें घटना से जुड़े प्रसंगों , उससे जुड़े प्रश्न व विचार के लिए इसमें कल्पना की जाती है।

कुछ विचार लेखक के होते हैं और कुछ विचार पाठक के लिए होता है।

पाठक पूरे लेख को पढ़कर अपने विचार अपने मत इस लेख के प्रति रख सकता है।

 

फीचर लेखन उदाहरण

= > नेता द्वारा किए गए चुनाव प्रचार के दौरान ‘ चुनावी वायदा ‘  पर संक्षिप्त फीचर लेखन।

तलवारें म्यान में , योद्धा मैदान में

चुनाव आते ही नेता अपने क्षेत्र में प्रचार-प्रसार के लिए लग गए हैं। रोचक तरीके से वोटरों को लुभाने में जुटे हुए हैं। नेता एक – दूसरे के कमियों को उजागर कर अपना प्रचार – प्रसार कर रहे हैं।

आज रायगढ़ में उपस्थित ‘ जय भगवान ‘ जो वहां के वर्तमान सांसद हैं , उन्होंने अपनी जनता को पुराने सभी किए गए वायदे को छिपाने के लिए नए-नए वायदे किए। सांसद अभी तक वहां मूलभूत सुविधा उपलब्ध नहीं करवा पाए। वह फिर चुनाव को देखते हुए पुनः पुराने और नए वादे जो लोगों को लुभाने वाले हैं , उसे प्रस्तुत कर रहे हैं।

चुनावी वादे में मुख्य वायदे इस प्रकार हैं –

  • सड़क नाली बनवाना सभी के लिए।
  • एक – एक  लैपटॉप कॉलेज विद्यार्थी को देंगे ।
  • धार्मिक स्थलों का निर्माण ।
  • गरीबों को घर।
  • कच्ची कालोनी को पक्का करके सुविधा को बेहतर करना।
  • सरकारी अस्पताल का निर्माण आदि।

नेताजी चुनावी वादे करके हंसी मजाक करते हुए वह अपनी गाड़ी में बैठे और वहां से रवाना हो गए। इस घटना को देखने के लिए वहां दर्शक जोकि कुछ अपनी श्रद्धा से आए थे और कुछ जबरदस्ती कुछ पैसे देकर लाए गए थे।

वह नेता जी के आधे घंटे भाषण को सुनने के लिए 4 घंटे से बैठे हुए थे।

इस प्रकार की घटना केवल रामगढ़ ही नहीं अपितु पूरे देश में हो रही है। वोटरों को अब यह  विचार करना होगा कि कौन सांसद उन्हें खोखले आश्वासन दे रहा है। और कौन विकास और उत्थान की बात करता है , अथवा कार्य करने में अपनी निष्ठा रखता है। अतः अब लोगों को अथवा वोटरों को ही यह विचार करना होगा। धर्म , जात – पात इन सबके बहकावे में ना आकर लोगों को अपना एक मजबूत व सुदृढ़ कर्मठ नेता चुनने की आवश्यकता है।

Feature lekhan video

यह भी पढ़ें –

पुलिस आयुक्त को पत्र।Patra lekhan

संपादक को पत्र

बाढ़ राहत कार्य पत्र

 स्वास्थय अधिकारी को पत्र

हिंदी का पेपर कैसे हल करें class 11

इतिहास प्रश्न पत्र हल सहित कक्षा 11

Hindi question paper class 12 with solution

हिंदी व्याकरण के लेख

Abhivyakti aur madhyam for class 11 and 12

Hindi vyakran हिंदी व्याकरण की संपूर्ण जानकारी

Hindi barakhadi written, images and chart – हिंदी बारहखड़ी

Alankar in hindi सम्पूर्ण अलंकार

सम्पूर्ण संज्ञा Sampoorna sangya

सर्वनाम और उसके भेद sarvnaam in hindi

अव्यय के भेद परिभाषा उदहारण Avyay in hindi

संधि विच्छेद sandhi viched in hindi grammar

समास की पूरी जानकारी | समास के भेद | samas full details | समास की परिभाषा  

रस। प्रकार ,भेद ,उदहारण ras ke bhed full notes

पद परिचय। Pad parichay in hindi

स्वर और व्यंजन की परिभाषा swar aur vyanjan

विलोम शब्द Vilom shabd hindi grammar

Hindi varnamala swar aur vyanjan हिंदी वर्णमाला

हिंदी काव्य ,रस ,गद्य और पद्य साहित्य का परिचय।

शब्द शक्ति , हिंदी व्याकरण।Shabd shakti

छन्द विवेचन – गीत ,यति ,तुक ,मात्रा ,दोहा ,सोरठा ,चौपाई ,कुंडलियां ,छप्पय ,सवैया ,आदि

 

 

कृपया अपने सुझावों को लिखिए | हम आपके मार्गदर्शन के अभिलाषी है 

facebook page hindi vibhag

YouTUBE

Google+

19 thoughts on “फीचर लेखन क्या है Feature lekhan in hindi for class 11 and 12”

    • Best of luck for your exam. We will focus on maintaining notes for exam purpose especially at one place. So keep visiting stay tuned with us

      Reply

Leave a Comment