पद परिचय।पद क्या होता है? पद परिचय कुछ उदाहरण।

पद परिचय की संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए यह लेख अंत तक अवश्य पढ़ें। इस लेख में आप जानेंगे कि पर क्या होता है, पद परिचय के आवश्यक संकेत क्या है, पद परिचय की परिभाषा और उसके उदाहरण।

What is pad paruchay? Definition and Examples in details.

पद परिचय उदाहरण सहित

पद क्या होता है?

वाक्य में प्रयुक्त शब्द को पद कहा जाता है वाक्य में प्रयुक्त शब्दों में संज्ञा , सर्वनाम , विशेषण , क्रिया विशेषण , संबंधबोधक आदि अनेक शब्द होते हैं। पद परिचय में यह बताना होता है कि इस वाक्य में व्याकरण की दृष्टि से क्या-क्या प्रयोग हुआ है।

पद परिचय के आवश्यक संकेत

१ संज्ञा    – संज्ञा के भेद (जातिवाचक व्यक्तिवाचक भाववाचक) ,

२ लिंग ( पुल्लिंग स्त्रीलिंग)

३ वचन( एकवचन बहुवचन)

४ कारक तथा क्रिया के साथ संबंध

५ सर्वनाम   – सर्वनाम के भेद (पुरुषवाचक , निश्चयवाचक , अनिश्चयवाचक , प्रश्नवाचक , संबंधवाचक , निजवाचक)

६ लिंग वचन कारक क्रिया के साथ संबंध

७ विशेषण   – विशेषण का भेद (गुणवाचक ,संख्यावाचक ,परिमाणवाचक,सार्वनामिक)

८ विशेष्य लिंग वचन

९ क्रिया   – क्रिया का भेद (अकर्मक , सकर्मक , प्रेरणार्थक , संयुक्त , मुख्य सहायक)

१० वाक्य लिंग वचन काल धातु

११ अवयव   – अवयव का भेद( क्रिया , विशेषण , संबंधबोधक , समुच्चयबोधक , विस्मयादिबोधक , निपात) जिस क्रिया की विशेषता बताई जा रही है उसका निर्देश , समुच्चयबोधक , संबंधबोधक , विस्मयादिबोधक , भेद तथा उसका संबंध निर्देश आदि बताना होगा।

Pad parichay in hindi with examples
Pad parichay in hindi with examples

=>पद परिचय कुछ उदाहरण के साथ

१ श्याम स्कूल जाता है

श्याम – व्यक्तिवाचक संज्ञा पुलिंग एकवचन कर्ता कारक

स्कूल –  जातिवाचक संज्ञा पुलिंग एकवचन कर्म कारक

जाता है – क्रिया सकर्मक क्रिया पुलिंग एकवचन वर्तमान काल

२ वह सेब खाता है

वह  -पुरुषवाचक सर्वनाम अन्य पुरुष एकवचन पुल्लिंग कर्ता कारक

सेब – जातिवाचक संज्ञा एकवचन पुल्लिंग कर्म कारक

खाता है – सकर्मक क्रिया एकवचन पुल्लिंग कृत वाच्य वर्तमान काल

३ राजेश वहां दसवीं कक्षा में बैठा है

राजेश – संज्ञा व्यक्तिवाचक संज्ञा पुलिंग एकवचन कर्ता कारक
वहां – स्थानवाचक क्रिया विशेषण बैठा है क्रिया का स्थान निर्देश
दसवीं – संख्यावाचक विशेषण स्त्रीलिंग एकवचन
कक्षा में –  जातिवाचक संज्ञा स्त्रीलिंग एकवचन अधिकरण कारक बैठा क्रिया से संबंध
बैठा है – अकर्मक क्रिया पुलिंग एकवचन अन्य पुरुष कृत वाच्य

 

=>केवल रेखांकित पदों का व्याकरणिक परिचय दीजिए

१ ‘यह ‘ पुस्तक मेरी है
यह  – सार्वनामिक विशेषण , एकवचन , स्त्रीलिंग

२ ‘कल’ हमने ‘ताजमहल’ देखा
कल  -कालवाचक क्रिया विशेषण
ताजमहल – व्यक्तिवाचक संज्ञा , एकवचन , पुल्लिंग , कर्म कारक

३ गीता ने पुस्तक ‘पढ़ ली’
सकर्मक क्रिया , स्त्रीलिंग , एकवचन , भूतकाल

४ ‘जल्दी’ चलो गाड़ी जाने वाली है
अवयव , क्रिया विशेषण , ‘चलो’ क्रिया की विशेषता

५ आह उपवन में ‘सुंदर’ फूल खिले हैं
गुणवाचक विशेषण , पुल्लिंग , बहुवचन , फूल विशेष्य

६ भागकर जाओ और बाजार से कुछ लाओ

बाजार से – संज्ञा , जातिवाचक ,पुल्लिंग ,एकवचन ,अपादान कारक।

७ तूम और तुम्हारे मित्र मेरे साथ भारत दर्शन करने चलो

८ तुम्हारे -सर्वनाम , पुरुषवाचक ,मध्यम पुरुष ,पुल्लिंग ,एकवचन ,सम्बन्ध करक ,मित्र से सम्बंधित

९ मोहन स्कुल जाता है

जाता है – सकर्मक क्रिया , कृतिवाचक ,पुल्लिंग ,एकवचन ,वर्तमान काल

१० धीरे – धीरे चलो

धीरे – धीरे -क्रिया विशेषण ,रीतिवाचक ,’चलो’ क्रिया की विशेषता बतला रहा है

११ वह काम करता है

पुरुष वाचक सर्वनाम ,अन्य पुरुष ,एकवचन, पुल्लिंग  कर्ता ,सकर्मक क्रिया , वर्तमान काल आदि

 

यह पोस्ट भी देखें

हिंदी व्याकरण की संपूर्ण जानकारी

Hindi alphabets

Hindi barakhadi 

Alankar in hindi

सर्वनाम और उसके भेद sarvnaam in hindi

अव्यय के भेद परिभाषा उदहारण Avyay in hindi

संधि विच्छेद sandhi viched in hindi grammar

समास की पूरी जानकारी

रस। प्रकार ,भेद ,उदहारण ras ke bhed full notes

स्वर और व्यंजन की परिभाषा swar aur vyanjan

विलोम शब्द Vilom shabd hindi grammar

Hindi varnamala swar aur vyanjan हिंदी वर्णमाला

हिंदी काव्य ,रस ,गद्य और पद्य साहित्य का परिचय।

शब्द शक्ति , हिंदी व्याकरण।Shabd shakti

छन्द विवेचन – गीत ,यति ,तुक ,मात्रा ,दोहा ,सोरठा ,चौपाई ,कुंडलियां ,छप्पय ,सवैया ,आदि

हिंदी व्याकरण , छंद ,बिम्ब ,प्रतीक।

शब्द और पद में अंतर

अक्षर की विशेषता

बलाघात के प्रकार उदहारण परिभाषा आदि

भाषा स्वरूप तथा प्रकार

 

अगर आपको ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसको ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुचाएं | व्हाट्सप्प और फेसबुक के माध्यम से शेयर करें |और हमारा एंड्राइड एप्प भी डाउनलोड जरूर करें.

 

कृपया अपने सुझावों को लिखिए | हम आपके मार्गदर्शन के अभिलाषी है 

facebook page hindi vibhag

YouTUBE

Google+

51 thoughts on “पद परिचय।पद क्या होता है? पद परिचय कुछ उदाहरण।”

  1. बहुत अच्छे से समझाया गया है | मुझे बहुत मददगार लगा |

    Reply
    • शुक्रिया भाईसाहब | हम ऐसे ही कंटेंट डालते रहते हैं | आप चाहे तो हमसे जुड़े रह सकते हैं |

      Reply
    • OK. We will. Even we have most of them written in our site. If you have other queries then do ask.

      Reply
    • हम कोशिश करेंगे कि आप की समस्या जल्द से जल्द हल करें आपको थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा बाकी अपनी दिक्कत जाहिर करने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद क्योंकि यही एक रास्ता है जिससे हम समझ पाते हैं कि लोगों को क्या दिक्कत आ रही है अगर आपको किसी अन्य पोस्ट में और कोई समस्या है तो वहां पर भी अवश्य कॉमेंट करें

      Reply
    • भविष्य में इसे बेहतर किया जाएगा | सुझाव के लिए धन्यवाद | अगर और कोई प्रश्न आपके मन में है तो वो भी आप पूछ सकते हैं |

      Reply
    • We make helpful notes for every class , it will be even good if you help us to spread our website in your school. It will be a help for them too

      Reply
    • इसमें पुरुषवाचक सर्वनाम , अन्य पुरुष, एकवचन, पुल्लिंग ,कर्ता , सकर्मक क्रिया ,वर्तमान काल आदि पद परिचय होगा

      Reply
  2. मैंने देखा, वहां से कोई आ रहा था। इस वाक्य में मैंने और कोई पदों का पद-परिचय दीजिए।

    Reply
  3. कृपया पद परिचय दें
    मैंने जी-तोड़ मेहनत की।
    उपर्युक्त वाक्य में मेहनत का

    Reply
  4. Sir ek question me likha hai tum aur tumhare mitra sir to isme tumhare madhyam purush kaise hai isee to anya purush hona chhaiye tha

    Reply
    • क्योंकि इस पद में मध्यम पुरुष के माध्यम से बात हो रही है और मध्यम पुरुष के मित्र के लिए कहा गया है इसलिए अन्य पुरुष नहीं होगा अन्य पुरुष के लिए यह वह उसका आदि शब्दों का प्रयोग किया जाता है।

      Reply
  5. It is very very good for classs 10th students and sir please keep it .
    Make more and more videos for childrens .
    Sir one question here what is sakramak and what is akramak. I dout it what is this please tell me some examples about my question.

    Reply
    • Comments like these are motivational for us.
      We will keep posting such educational posts. Stay in touch with us

      Reply
  6. सर कल मेरी परीक्षा है विश मी बेस्ट ऑफ़ लक।

    Reply
    • आपको आपकी परीक्षा के लिए पूरी हिंदी विभाग की तरफ से बेस्ट ऑफ़ लक।

      Reply
    • अतुल जी पहले आप को परीक्षा के लिए शुभकामनाएं
      अगर आप सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा दे रहे हैं तो आप धैर्य रखते हुए तैयारी करें जल्दबाजी में पुरानी तैयारी खराब ना हो इसका भी ध्यान रखें।
      अपने विद्यालय द्वारा बताए गए महत्वपूर्ण प्रश्नों को स्मरण करते रहे अगर किसी भी टॉपिक अथवा क्षेत्र में दिक्कत या असहज महसूस कर रहे हैं तो स्वयं उन बिंदुओं को कॉपी पर लिख कर याद करने की कोशिश करते रहें
      संक्षेप और बिंदुवार की गई तैयारी आपके परीक्षा में अधिक अंक दिला सकेगी ऐसा मेरा विश्वास है
      परीक्षा में आप उन प्रश्नों को पहले करें जो आप जानते हैं
      धीरे-धीरे सभी प्रश्नों को करने के लिए प्रयत्न करें
      किंतु परीक्षा भवन में आप तनिक भी नर्वस ना हो
      क्योंकि यह नर्वस आपके पूरे वर्ष की तैयारी पर पानी फेर सकता है
      धैर्य रखें यह केवल पाठ्यक्रम की परीक्षा है जीवन की नहीं
      कितने भी अंक आए घबराए नहीं जीवन में अपार संभावनाएं है
      जब आप बिल्कुल निराश हो जाए तो आप उन महान हस्तियों और प्रसिद्ध व्यक्तियों को देखें और पढ़ें जो कॉलेज तक नहीं गए

      Reply

Leave a Comment