Dolphin in Hindi – डॉल्फिन की पूरी जानकारी

This is the another article in series of general knowledge in Hindi. Today we bring to you information on Dolphin in Hindi with important facts.

आज के लेख में हम डॉल्फिन से जुड़े हुए सभी तथ्यों को लिखने जा रहे हैं। डॉल्फिन विश्व की एक दुर्लभ प्रजाति में से है। इसका संरक्षण करने के लिए देश-विदेश में कई प्रकार के कानून बनाए गए हैं। किंतु वह कानून डॉल्फिन के संरक्षण में नाकामयाब साबित हो रहा है। डॉल्फिन बदलते जलवायु तथा अवैध कारोबार की भेंट निरंतर चढ़ता जा रहा है।

आज के लेख में हम डॉल्फिन से जुड़े तथ्यों को प्रकट कर रहे हैं। आशा है आपके ज्ञान और रुचि में की वृद्धि हो सके आपको यह लेख पसंद आए इसका विशेष ध्यान रखा गया है –

 

डॉल्फिन हिंदी में – Dolphin in Hindi

डॉल्फिन विश्व की दुर्लभ प्रजाति में से एक है। अमूमन लोग डॉल्फिन को मछली मानते हैं , किंतु वास्तविकता यह है कि यह मछली नहीं है। डॉल्फिन एक स्तनधारी प्राणी  है। जिस प्रकार व्हेल है। डॉल्फिन छोटे-छोटे समूहों में रहते हैं। यह मुख्य रूप से साफ अथवा शुद्ध पानी में पाए जाते हैं। मुख्य रूप से समुद्र तथा बड़ी नदियों में ही इन्हें देखा जा सकता है।

भारत में भी इनकी उपलब्धता है इन्हें गंगा तथा सिंधु नदी में भी देखा गया है।

डॉल्फिन का शरीर इस प्रकार से बनाया गया है। यह अपने शिकार को शरीर द्वारा प्रकट किए गए तरंगों के माध्यम से उसके आकार और दूरी का सटीक अनुमान लगाने में सक्षम है। जिस प्रकार चमगादड़ आंखों के ना होते हुए भी अपने शरीर के द्वारा प्रकट की गई तरंगों से शिकार का सटीक दूरी और आकार पता लगाती है डॉल्फिन भी इसी प्रकार का व्यवहार करती है।

डॉल्फिन लगभग 10-15 सदस्यों के समूह में रहता है जो इनकी खासियत है। इन में तैरने की क्षमता भी लाजवाब है।

लगभग 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तैरने की क्षमता रखता है। डॉल्फिन जल के भीतर लगभग 20 मिनट बिना ऑक्सीजन लिए रह सकता है।

ऑक्सीजन लेने के लिए इन्हें पुनः वायु के संपर्क में आना होता है।

 

डॉल्फिन की कुछ प्रमुख खासियत – Features of Dolphin in Hindi

  • डॉल्फिन एक स्तनधारी प्राणी है , जिन्हें सामान्य तौर पर लोग मछली समझने की भूल करते हैं।
  • शरीर के तरंगों से शिकार का सटीक अनुमान तथा संचार माध्यम में सहायक।
  • डॉल्फिन को प्रजनन के लिए नर व मादा की आवश्यकता होती है।
  • अन्य प्राणियों से ज्यादा स्मरण शक्ति का तीव्र होना।
  • छोटे समूहों में रहते हैं।
  • साफ शुद्ध और स्वच्छ जल में ही पाए जाते हैं।
  • डॉल्फिन का आकार 4 फीट से लगभग 30 फीट का होता है।
  • डॉल्फिन लगभग 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तैर सकती है।
  • सुनने की क्षमता इंसान से कई गुना अधिक होती है।
  • डॉल्फिन का वजन लगभग 40 किलो से 9000 किलो तक माना जाता है।
  • डॉल्फिन के दांत होते हैं , किंतु भोजन निगल कर ही खाते हैं।
  • भारत में या गंगा तथा सिंधु नदी में पाया जाता है।
  • यह एक मांसाहारी प्राणी है।

 

डॉल्फिन के विलुप्त होने के मुख्य कारण

निजी शोध में पाया गया है कि आज डॉल्फिन विलुप्त प्रजाति के रूप में उभर कर सामने आई है। जहां पहले समुद्र तथा नदियों में डॉल्फिन की बड़ी संख्या देखने को मिलती थी , आज वह कहीं दूर दूर तक नजर नहीं आती। सभी देशों में लगभग इसके संरक्षण के लिए कानून बने हुए हैं।  किंतु यह कानून डॉल्फिन के संरक्षण के लिए काफी नहीं है। डॉल्फिन नदियों से तो लगभग समाप्त हो ही गए हैं , इनका समुद्र से भी तीव्र गति से प्रजातियां समाप्त हो रही है।

वर्तमान शोध में यह पता चला है कि इसकी प्रजाति लगभग 90 फ़ीसदी तक कम हो गई है , जिसका प्रमुख कारण अवैध व्यापार और जलवायु परिवर्तन है। डॉल्फिन स्वच्छ और शुद्ध पानी में रहती है जिसकी कमी के कारण डॉल्फिन की प्रजातियां जहां समाप्त हो रही है। वहीं बड़े-बड़े जाल में फस कर इस प्रजाति पर संकट गहरा गया है। मछली पकड़ने के लिए समुद्र में बड़े-बड़े जाल लगाए जाते हैं जो गैरकानूनी है।  ऐसा करना नियम का उल्लंघन है फिर भी गिलनेट मछली को पकड़ने के लिए इन जालो का इस्तेमाल किया जाता है। इस जाल का आकार 100 मीटर से लेकर 30 किलोमीटर तक हो सकता है। इनके जालों के छेद इस प्रकार से बनाए जाते हैं जिसमें ट्यूना मछली को पकड़ा जा सके। लेकिन इन जालो में उलझ कर समुद्री जीव जैसे – डॉल्फिन , सार्क , कछुए , व्हेल आदि प्रजातियां अपने अस्तित्व को खोती जा रही है।

भारत सरकार ने डॉल्फिन के संरक्षण और उसके संख्या की वृद्धि के लिए संकल्प लेते हुए इस क्षेत्र में बेहद ही सराहनीय कार्य कर रही है।

यह भी पढ़ें –

Banking gk in hindi with questions and answers

Gk in hindi – List of first in India ( Bharat me pratham )

आर्थिक जगत के मुख्य जानकारी – General awareness on Economy

Famous Indian Cities nicknames – शहरों के उपनाम

Basic Gk for kids in Hindi – बच्चों के लिए सामान्य ज्ञान

Chinook helicopter full details in hindi

शाला दर्पण लॉगिन

Insurance in Hindi

Internet kya hai ? Internet ke fayde aur nuksan

How to register a company in India

Follow us here

Follow us on Facebook

Subscribe us on YouTube

Leave a Comment

You cannot copy content of this page