अधिक भरोसा भी दुखदाई है Motivational kahani

विश्वास रखना या होना बुरा नहीं हैं। परन्तु चाणक्य कहते हैं अति सर्वत्र वर्जते। अति से हमेशा दूर रहना चाहिए। आइये पढ़ते हैं एक बेहतरीन मोटिवेशनल कहानी। Read this hindi motivational kahani till the end to learn moral hidden inside it.

 

अधिक भरोसा भी दुखदाई है – Hindi motivational kahani

This motivational kahani is best for students who are studying in schools.

मोहन अंग्रेजी स्कूल में पड़ता है , वह पढ़ने लिखने में बेहद ही होनहार है। उसकी गणना विद्यालय के मेधावी छात्रों में की जाती है , वह अपनी कक्षा में सर्वोच्च अंक प्राप्त करता है और पूरे विद्यालय में अधिक अंक प्राप्त करने का भी हौसला रखता है।

एक दिन की बात है विद्यालय में पर्यावरण पर एक निबंध प्रतियोगिता होने की घोषणा हुई , और समय एक महीने आगे का रखा गया। सभी विद्यार्थी उत्साहित थे कि उन्हें निबंध प्रतियोगिता में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना है और अन्य छात्रों से अधिक अंक प्राप्त करना है।

Akbar birbal stories in hindi with moral

किंतु मोहन उत्साहित नहीं था , वह इसे विद्यालय के द्वारा की गई गलती समझ रहा था क्योंकि निबंध लिखना उसके लिए बेहद ही आग आसान काम था। जिसके लिए विद्यालय ने एक महीने आगे का समय रखा है यह केवल समय की बर्बादी है।

मोहन कुछ कर भी नहीं सकता था , इसलिए वह चुपचाप रहा और एक महीने बीतने का इंतजार करने लगा।

जब महीना बीतने में दो दिन मात्र शेष रहे , मोहन को अब लगा कि उसे कुछ तैयारी कर लेनी चाहिए ताकि वह अन्य छात्रों से अधिक अंक लाकर प्रथम स्थान प्राप्त कर सके।

Motivational story in hindi for students

मोहन ने झटपट सारी पुस्तकें निकाली और अन्य स्रोतों के माध्यम से निबंध की तैयारी करने का पूरा सांचा तैयार किया।

किंतु इस तैयारी में उसे दो दिन भी कम पड़ गए।

3 Best Story In Hindi For kids With Moral Values

7 Hindi short stories with moral for kids

विद्यालय में प्रतियोगिता का आयोजन हुआ , जब परिणाम की घोषणा की गई तो प्रथम पुरस्कार रोहित को मिला जो कक्षा में सबसे कम अंक प्राप्त करता था।

ऐसा देखकर मोहन को काफी दुख हुआ।

Hindi panchatantra stories best collection

वह निराशा के साथ रोने लगा और उसने किसी भी मित्र से कुछ बात नहीं की।

मोहन रोते-रोते अपने घर पहुंचा जहां उसकी बहन ने उसके रोने का कारण पूछा किंतु वह अपनी बहन से भी अपने रोने की बात साझा नहीं किया।

किंतु उसकी बहन समझ गई कि मोहन को पुरस्कार नहीं मिला है जिसके कारण रो रहा है।

5 Famous Kahaniya In Hindi With Morals

क्योंकि मोहन की बहन सारी परिस्थितियां जानती थी उसने मोहन को अपने पास बिठाया और उसे ध्यान से समझाया कि जब प्रतियोगिता के लिए एक  महीने का समय मिला था तुमने उसमें कुछ तैयारी नहीं की। यह तुम्हारा अधिक विश्वास है , जो तुम्हें धोखा दे गया। इसलिए किसी भी तैयारी के लिए उसमें पूरा समय और अपना समर्पण देना होता है , तभी जाकर सफलता हाथ लगती है।

बड़ी बहन की बातों में अधिक विश्वास और प्यार था जिसके कारण मोहन ने रोना बंद कर अपनी बहन से वादा किया कि वह कभी भी किसी काम को आसान नहीं समझेगा उसमें अपना पूरा समर्पण और मेहनत से कार्य करेगा।

3 majedar bhoot ki kahani hindi mai

Hindi funny story for everyone haasya kahani

कुछ समय बाद जब मोहन की शिक्षा पूरी हुई वह एक बड़े अस्पताल में एक प्रतिष्ठित डॉक्टर के रूप में कार्य करने लगा। उसके कार्य से मरीज अधिक प्रसन्न रहते और मोहन से इलाज करवाने के लिए लंबी संख्या में मरीजों की पंक्तियां खड़ी रहती थी।

Moral of this motivational kahani in hindi

१. कभी घमंड मत करो।

२. समय से पहले ज्यादा मत सोचो। अभी पर ध्यान दो और कोशिश में जुट जाओ।

३. अति का त्याग करना चाहिए।

 

Read stories class wise

Stories for everyone. Class 1 to 9

Hindi stories for class 1, 2 and 3

Moral hindi stories for class 4

Hindi stories for class 8

Hindi stories for class 9

 

Some more beautiful stories

These are love stories you can read below

Prem kahani in hindi – प्रेम कहानिया हिंदी में

Love stories in hindi प्रेम की पहली निशानी

 

Follow us here

You can follow us at below social media handles

facebook page hindi vibhag

YouTUBE

6 thoughts on “अधिक भरोसा भी दुखदाई है Motivational kahani”

Leave a Comment

You cannot copy content of this page